छत्तीसगढ़

पहले व चौथे शनिवार को प्रत्येक विकासखण्ड में लगेंगे जनसमस्या निवारण शिविर

समय-सीमा बैठक में कलेक्टर ने जिले के सभी विकासखण्ड में माह के पहले व चौथे शनिवार को जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित करने के निर्देश जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को दिए।

मिलेश महिलांगे

धमतरी18 नवम्बर2020: समय-सीमा बैठक में कलेक्टर ने जिले के सभी विकासखण्ड में माह के पहले व चौथे शनिवार को जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित करने के निर्देश जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को दिए। उन्होंने कहा कि शिविर की तिथि से 20 दिन पहले ग्रामीणों से आवेदन प्राप्त कर लें तथा शिविर वाली तिथि में उसका निराकरण किया जाएगा।

आवश्यकतानुसार जिला स्तर के अधिकारी भी शिविर में उपस्थित रहेंगे। शिविर के आयोजन के लिए 15-20 गांवों का क्लस्टर निर्धारित करने के भी निर्देश जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को दिए, ताकि अधिक संख्या में भीड़ एकत्रित न होने पाए। बैठक में जिला पंचायत की सी.ई.ओ. नम्रता गांधी ने कहा कि चूंकि अभी किसान धान की फसलें काटकर पैरा खेतों में ही छोड़ रहे हैं। कुछ किसान फसल अवशेषों को खेतों में ही जला देते हैं, जिसका उपयोग गोठानों में पैरादान के तौर पर किया जा सकता है।

इस पर कलेक्टर ने सभी जनपद पंचायतों के सी.ई.ओ. को पैरादान के लिए ग्रामीणों व किसानों को प्रोत्साहित करने तथा उप संचालक कृषि को राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एन.जी.टी.) के निर्देशों को कड़ाई से पालन कराने व खेतों में पराली (फसल अवशेष) को नहीं जलाने के लिए गांवों में मुनादी कराने, उससे होने वाले नुकसानों की जानकारी देने के लिए निर्देशित किया। इसके अलावा विभिन्न विभागों में लंबित प्रकरणों की समीक्षा कलेक्टर ने विभागवार की तथा शीघ्रता से गुणवत्तापूर्ण निराकरण करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। बैठक में अपर कलेक्टर दिलीप कुमार अग्रवाल सहित जिला स्तर के अधिकारीगण उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button