हत्या के आरोपी पुत्र के खिलाफ मस्तूरी पुलिस नहीं कर रही है कार्यवाही

मनमोहन पात्रे:

बिलासपुर: मस्तुरी विधानसभा के ग्राम भनेशर में एक कलयुगी पुत्र ने अपने ही पिता को पहले तो लात-घुसो से जमकर पिटा फिर अधमरे पिता के ऊपर बाइक चढ़ा दी| मारपीट कर पुत्र अपने बुजुर्ग पिता तड़पता छोड़ चला गया जिसके कुछ देर बाद बुजुर्ग पिता तड़पता रहा फिर उसने प्राण त्याग दिए|

पुलिस ने बुजुर्ग की मौत के बाद मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया

पुलिस ने बुजुर्ग की मौत के बाद मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है लेकिन इस हत्याकांड के आरोपी पुत्र के खिलाफ ना ही हत्या का अपराध दर्ज किया गया है और ना ही कार्यवाही कर रही है जो पुलिसिया कार्यवाही पर प्रश्नचिन्ह खड़े कर रही है|

जिले के मस्तुरी तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत भनेशर के नरवापारा निवासी कुमार सिंह ठाकुर अपने घर के नजदीक बैठे हुए थे इसी दौरान पुत्र बजरंग सिंह ठाकुर अपने पिता कुमार सिंह से जमकर मारपीट करते हुए लात-घुसो से पीटने लगा, पिता की जमकर पिटाई करने के बाद भी जब बजरंग का मन नहीं भरा तो उसने कुमार सिंह के ऊपर अपनी बाइक चढ़ा दी|

बजरंग की पिटाई से गंभीर रूप से घायल व लहुलुहान कुमार सिंह ठाकुर काफी देर तक तडपते रहे जिसकी मुहल्लेवासियों ने मदद करने की कोशिश भी की| घटना के बाद के लगभग एक घंटे के बाद घटनास्थल पर पुन: बजरंग वापस आकर अपने पिता कुमार सिंह ठाकुर को घर लेकर गया व मारपीट में लहुलुहान हुए पिता के शरीर से खून को साफ़ भी किया जिसके कुछ देर बाद ही कुमार सिंह ठाकुर की मौत हो गयी|

बुजुर्ग से मारपीट के दौरान उसके कपडे पर खून लगा था जिसे उसके पुत्र बजरंग ने गायब कर दिया है| यह पूरी घटना नरवापारा के सैकड़ो लोगो के सामने घटी मगर पुलिस इस हत्या में आरोपी बजरंग के खिलाफ कार्यवाही ना कर केवल खानापूर्ति में लगी हुई है वही मृतक कुमार सिंह ठाकुर की मौत के बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है|

हत्या के आरोपी के खिलाफ नहीं हो रही कार्यवाही

नरवापारा निवासी कुमार सिंह ठाकुर की पुत्र बजरंग सिंह ठाकुर ने सैकड़ो मुहल्लेवासियो के सामने जमकर मारपीट की व अपनी बाइक बुजुर्ग के सीने पर चढ़ा दी, मारपीट से बुरी तरह घायल हुए बुजुर्ग कुमार सिंह की मौत हो गयी लेकिन इस हत्याकांड के आरोपी पुत्र बजरंग ठाकुर के खिलाफ मस्तुरी पुलिस हत्या का अपराध दर्ज नहीं कर आरोपी को संरक्षण दे रही है| मस्तुरी पुलिस के जायसवाल द्वारा इस मामले में कोई भी प्रार्थी नहीं होने पर अपराध दर्ज नहीं किया जाना बताया जा रहा है जबकि पुलिस विभाग हत्या के मामले में स्वविवेक से मामले की जांच कर सकती है लेकिन पुलिस इस हत्या के आरोप से पुत्र बजरंग को बचाने का प्रयास कर रही है|

पुलिस कार्यवाही को लेकर उठे प्रश्न चिन्ह

मृतक कुमार सिंह ठाकुर की मौत मामले में मस्तुरी पुलिस की कार्यवाही को लेकर कई तरह के सवाल उठ खड़े हुए है| मृतक कुमार सिंह ठाकुर से पुत्र बजरंग सिंह द्वारा नरवापारा मुहल्ले में लोगो के सामने जमकर मारपीट कर बाइक चढ़ा दी गयी, फिर भी पुलिस द्वारा कोई प्रार्थी व गवाह नहीं होने की बात कही जा रही है?

मृतक से मारपीट के दौरान उसे लहुलुहान कर दिया गया था जो उसके कपड़ो पर भी लगा हुआ था लेकिन पुलिस द्वारा खून से सने कपडे नहीं मिलने की बात कही जा रही है? ग्रामीणों की माने तो बजरंग ठाकुर ट्रेलर चालाक है जो बिलासपुर निवासी व्यक्ति का ट्रेलर चलाता है, उक्त व्यक्ति द्वारा मस्तुरी पुलिस से लेनदेन कर हत्या के मामले को दबाने का प्रयास कर रहा है साथ ही इस मामले में पुलिस द्वारा मृतक के पुत्र बजरंग सिंह ठाकुर से कड़ाई से पूछताछ भी नहीं कर रही है जो इस हत्याकांड से जुड़े अहम् सवाल मस्तुरी पुलिस की कार्यवाही पर प्रश्न चिन्ह खड़े कर रही है|

Back to top button