मैक्स अस्पताल के डॉक्टरों, नर्सों को डीएमसी ने भेजा नोटिस

दिल्ली मेडिकल काउंसिल ने दो जुड़वां बच्चों में से एक जीवित बच्चे को भी मृत घोषित करने के सिलसिले में कथित चिकित्सा लापरवाही के मामले में शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल के नौ डॉक्टरों और दो नर्सों को एक नोटिस भेजा है.

मैक्स अस्पताल के डॉक्टरों, नर्सों को डीएमसी ने भेजा नोटिस

दिल्ली मेडिकल काउंसिल ने दो जुड़वां बच्चों में से एक जीवित बच्चे को भी मृत घोषित करने के सिलसिले में कथित चिकित्सा लापरवाही के मामले में शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल के नौ डॉक्टरों और दो नर्सों को एक नोटिस भेजा है. गौरतलब है कि अस्पताल ने गलती से इन्हें मृत घोषित कर दिया था.

डीएमसी ने 20 दिसंबर को नोटिस भेजा और 15 दिन में जवाब देने को कहा है. काउंसिल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक के जरिए नौ डॉक्टरों और दो नर्सों को नोटिस भेजा गया है।’

उन्होंने बताया, इससे पूर्व, मीडिया खबरों के आधार पर हमने मैक्स अस्पताल से एक जवाब मांगा था और उन्होंने करीब एक सप्ताह पहले इसका जवाब दिया था. इस बार हमने डॉक्टरों और नर्सों से व्यक्तिगत स्तर पर जवाब मांगा है.

यह मामला एक निजी अस्पताल ने 30 नवंबर को जुड़वां बच्चों के जन्म के बाद दोनो को मृत घोषित करने से जुड़ा है. हालांकि उनमें से एक शिशु जीवित था. बच्चे के जीवित मिलने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां एक सप्ताह बाद उसकी मौत हो गई.

डीएमसी ने नोटिस में कहा है, ‘इस सिलसिले में शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल के डॉक्टरों की ओर से कथित चिकित्सा लापरवाही को लेकर दिल्ली मेडिकल काउंसिल ने मीडिया खबरों पर स्वत: संज्ञान लिया.’ चिकित्सा संस्था ने यह भी कहा कि वह कथित लापरवाही की जांच कर रही है.

advt
Back to top button