मयंक मार्कडेंय को अच्छे प्रदर्शन के चलते घेरलू टी20 सीरीज में मिला मौका

मैंने कभी सोचा नहीं था कि भारत की तरफ से खेलने का मौका मुझे इतनी जल्दी मिल जाएगा।

21 वर्ष के मयंक मार्कडेंय को घेरलू स्तर पर और फिर इंडिया ए के लिए अच्छा प्रदर्शन करने का इनाम मिला और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो मैचों की टी20 सीरीज के लिए उन्हें भारतीय टीम में चुना गया।

भारतीय टीम में चयन के बाद उन्होंने कहा कि ये एक सपना था जो सच हो गया। मैंने कभी सोचा नहीं था कि भारत की तरफ से खेलने का मौका मुझे इतनी जल्दी मिल जाएगा।

मयंक ने कहा कि उनके करियर का अब तक का सबसे यादगार पल वो है जब उन्होंने आइपीएल में महेंद्र सिंह धौनी का विकेट लिया था।

आइपीएल के पिछले सीजन में मुंबई की तरफ से अपने पहले ही मैच में मयंक ने धौनी को अपनी फिरकी के जाल में फंसा कर उन्हें आउट कर दिया था।

मुंबई की तरफ से अपने डेब्यू मैच के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि टीम के कप्तान रोहित (भईया) ने उनसे कहा था कि मैं अच्छी गेंदबाजी करता हूं और मुझे इसके लिए तैयार रहना चाहिए।

उन्होंने मुझसे ये भी कहा कि मैं बिना किसी झिझक के उनके कुछ भी पूछ सकता हूं। आइपीएल के दौरान राहुल सांघवी सर ने भी प्रैक्टिस के दौरान मेरी काफी मदद की।

अपनी गेंदबाजी के बारे में बात करते हुए मयंक ने कहा कि वो मुख्य तौर पर गेंदबाजी के दौरान अपने नियंत्रण में सुधार करना चाहते हैं।

गुगली तो मैं नैचुरली फेंक लेता हूं। आइपीएल के बात भी मैंने अपने लेग स्पिन को और बेहतर करने का काम किया।

किसी भी लेग स्पिनर के लिए ये सबसे अहम है। अगर मैं अपनी गेंदबाजी पर नियंत्रण बना लेता हूं तो किसी भी बल्लेबाज को मेरी गेंद खेलने में परेशानी होगी।

क्रिकेट में मयंक के हीरो विराट कोहली हैं और उन्होंने इसके बारे में कहा कि मैं उनके साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करने को लेकर काफी उत्साहित हूं। मैंने कभी भी ये नहीं सोचा था लेकिन अब मुझे विराट से काफी कुछ सीखने को मिलेगा।

मैं भारतीय टीम के अन्य अनुभवी खिलाड़ियों से ज्यादा से ज्यादा सीखने की कोशिश करूंगा, लेकिन धौनी भईया, रोहित भईया और विराट भईया जैसे दिग्गज खिलाड़ियों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करना एक सपना था जो अब सच होने जा रहा है।

Back to top button