नक्सलगढ़ के मयंक का भारतीय बॉक्सिंग टीम में चयन

कोण्डागांव।

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में हुनर की कमी नहीं हैं। इसी क्रम में बस्तर संभाग अंतर्गत कोंडागाँव जिला के बोरगांव निवासी मयंक नंदी का चयन 4 दिसंबर से चीन के मकाउ में होने जा रहे अंतर्राष्ट्रीय एशियन म्यू थाई चैंपियनशिप 2018 में हुआ है। मयंक का चयन होना बोरगांव के साथ ही पूरे कोंडागाँव जिला और बस्तर संभाग के लिए गौरव की बात है।

बताया जाता है कि मयंक नंदी शुरू से ही होनहार विद्यार्थी रहे हैं और पढ़ाई के साथ साथ खेल कूद में भी उल्लेखनीय उपलब्धि रही है। इससे पहले भी बोरगांव के मयंक नंदी ने अंडर-19 हैवीवेट (बॉक्सिंग) चैंपियनशिप जीत कर छत्तीसगढ़ का नाम रोशन किया। उनकी प्राथमिक स्तर की शिक्षा स्थानीय मदर टेरेसा स्कूल मे ग्रहण कर वर्तमान में संस्कार सिटी इंटरनेशनल स्कूल राजनंदगांव में कक्षा 12 वीं विज्ञान संकाय में अध्ययनरत हैं।

मयंक नंदी गत 3 वर्षों से प्रणव शंकर साहू से मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण ले रहे हैं और गोवा राष्ट्रीय म्यु थाई चैंपियन 2018 में स्वर्ण पदक तथा रायगढ़ में आयोजित 18वीं राज्यस्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक विजेता मयंक के पिता गोपाल नंदी आबकारी विभाग कोंडागाँव में तथा माता रूनूप्रभा नंदी बोरगांव उ.मा. शाला में व्याख्याता पद पर कार्यरत हैं।

आज से शुरू होगी स्पर्धा

राज्य में म्यू थाई संघ के अध्यक्ष लखन कुमार साहू महासचिव अनीश मेमन ने बताया कि एशियन म्यू थाई चैंपियनशिप 2018 का आयोजन मकाउ चीन में 4 से 12 दिसंबर को किया जा रहा है, जिसमें भारत का 12 सदस्यी दल भाग ले रहा है इस दल में छत्तीसगढ़ से सर्वाधिक तीन खिलाड़ियों का चयन किया गया है।

Back to top button