मायावती की हॉ में लटकी छत्तीसगढ़ कांग्रेस के 15 विधानसभा उम्मीदवारों की सूची

गठबंधन पर राहुल के लौटने के बाद एंटनी व अहमद पटेल लेंगे फैसला

दीक्षा मिश्रा


रायपुर।

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव लड़ने की तैयारी में लगे छत्तीसगढ़ कांग्रेस के उम्मीदवारों को अभी और इंतजार करना पड़ सकता है। दरअसल ओबीसी आयोग की मंजूरी के जरिया भाजपा जहां पिछड़ा वर्ग मतदाताओं को अपने पक्ष में करने की इसे चुनावी मुददा बनाने की तैयारी कर ली है

वहीं कांग्रेस दलित व अल्पसंख्यक मतदाताओं पर अपनी पैठ बनाए रखने की रणनीति पर काम कर रही है। इसके लिए दिल्ली में कांग्रेस के आलानेता बसपा प्रमुख मायावती से निरंतर संपर्क में हैं।

यहीं वजह है कि छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान में कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका है।

सूत्रों की माने तो राहुल के मानसरोवर यात्रा पर रवाना होने से पहले उनके दिल्ली निवास पर गुरुवार को आगामी लोकसभा एवं तीन राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर बनाई गई मुख्य समिति की पहली बैठक हुई।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस की बैठक में तय किया गया कि हर राज्य में गठबंधन

बैठक में तय किया गया कि हर राज्य में गठबंधन वहां की परिस्थितियों के अनुसार होगा। बैठक में यह भी कहा गया कि गठबंधन किए जा सकने वाले राज्यों के कांग्रेस अध्यक्षों व प्रभारियों की रिपोर्ट के आधार पर ही आखिरी फैसला किया जाएगा। गठबंधन पर अंतिम फैसला निर्णय वरिष्ठ नेता एके एंटनी व अहमद पटेल लेंगे।

बता दें कि तीनों राज्यों में बसपा की मदद से कांग्रेस चुनावी वैतरणी पार करने की सोच रही है। वहीं बसपा सीटों के तालमेल सम्मानजनक सीटों से कम पर चुनावी गठबंधन को तैयार नहीं है।

बसपा सूत्रों को कहना है कि अगर सीटों की तालमेल पर दोनों दलों में बात बन जाती है तो तीनों राज्यों में गठबंधन हो सकता है। फिलहाल राहुल गांधी के मानसरोवर यात्रा से लौटने के बाद तीनों राज्यों में गठबंधन व सीटों की संख्या के लिए एक राय बनाई जाएगी।

कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को इन राज्यों से सत्ता से बेदखल करने पर ही आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाए जाने का रास्ता साफ हो सकता है।

यही वजह है कि तीनों राज्यों की स्क्रीनिंग कमेटी उम्मीदवारों के चयन के बाद भी लिस्ट जारी नहीं कर पा रही है। साथ ही उन्हें पार्टी को एकजुट बनाए रखने की चुनौतियों से भी जूझना होगा।

बताया जा रहा है कि आगामी 15 सितंबर तक तीनों राज्यों में कांग्रेस उम्मीदवारों की अंतिम सूची जारी करने की तैयारी है। राहुल गांधी के लौटने के बाद ये सूची कभी भी जारी हो सकती है।

Tags
Back to top button