बच्चों को सुरक्षित करने के लिए मीजल्स एवं रूबैला टीकाकरण आवश्यक: डॉ.रमन सिंह

रायगढ़:

रेडियो मासिक वार्ता रमन के गोठ की 36 वीं कड़ी को आज रायगढ़ के तारापुर ग्राम के निवासियों ने तन्मयतापूर्वक सुना। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस, विश्व आदिवासी दिवस, हरेली, नागपंचमी, पारसी नववर्ष, ओणम, एवं रक्षाबंधन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि यह पर्व हमें एक ओर हमें महान देश के नागरिक होने का बोध कराते है वहीं सामाजिक जिम्मेदारियों के प्रति भी सचेत करते हैं।

मुख्यमंत्री डॉ.सिंह ने कहा कि हमारे देश में एक साल में लगभग 1 लाख बच्चों की मृत्यु खसरा एवं रूबैला बीमारी के कारण होती है। यह बीमारी संक्रमित व्यक्ति के खांसने एवं छींकने से फैलता है। उन्होंने कहा कि रूबैला रोग महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान भी हो सकता है।

भारत शासन ने खसरा एवं रूबैला के टीकाकरण का अभियान आरंभ किया है। छत्तीसगढ़ में करीब 85 लाख बच्चों को सुरक्षित करने के लिए सभी शासकीय निजी स्कूलों व आंगनबाड़ी केन्द्रों में खसरा एवं रूबैला के टीके लगाए जायेंगे। उन्होंने कहा कि सभी स्वयंसेवी संस्थाओं एवं चिकित्सकों में संगठन के सहयोग से इस अभियान को सफल बनायेंगे। जिस तरह सबने मिलकर पोलियो को हटाया था उसी तरह मीजल्स एवं रूबैला को भी हटायेंगे।

उन्होंने कहा कि संचार क्रांति योजना (स्काई)के तहत 50 लाख स्मार्ट फोन का वितरण किया जा रहा है एवं 50 लाख में से 40 लाख स्मार्ट फोन महिलाओं को दिए जायेंगे। अब इसमें थर्ड जेंडर को भी शामिल किया जाएगा। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने कहा कि बरसात के मौसम में पीलिया, डेंगू, मलेरिया आदि मौसमी बीमारियों से सावधान रहे।

उन्होंने बताया कि इसके मितानिनों को प्रशिक्षित करते हुए आरडी किट, मलेरिया रोधी दवा, एसीटी एवं क्लोरोक्वीन की दवा की भी उपलब्ध करायी गए थे। उन्होंने कहा कि खनिज न्यास निधि डीएमएफ के क्रियान्वयन में छत्तीसगढ़ को देश में प्रथम स्थान मिला है। छत्तीसगढ़ की गिनती देश के प्रमुख खनिज धारक राज्य के रूप में होती है। इस योजना के तहत पेयजल, स्वास्थ्य, वृद्ध एवं निरूशक्तजन कल्याण, कौशल विकास स्वच्छता आदि उच्च प्राथमिक चिन्हित क्षेत्रों में राशि का उपयोग किया जा रहा है।

इस अवसर पर ग्रामवासी मेनका सिदार ने कहा कि प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री डॉॅ.रमन सिंह द्वारा संचार क्रांति योजना के तहत मोबाइल दिया जाना सराहनीय पहल है। श्रीमती चमेली चौहान ने कहा कि मीजल्स एवं रूबैला टीका की दिशा में किए जा रहे कार्य प्रशंसनीय है।

रामेश्वरी पटेल ने कहा कि डेंगू, पीलिया एवं मलेरिया के बचाव के लिए मुख्यमंत्री डॉ. सिंह द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी। इस अवसर पर सरपंच नीता नरेश डनसेना, सचिव महेश राम, सरपंच ग्राम कुर्मीपाली पारसमणि साव, लोचन पटेल, डोलनारायण पटेल, रामलाल पटेल, राजेश डनसेना, करारोपण अधिकारी लाल कुमार पटेल, बुधियारी निषाद सहित बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे।

Back to top button