राष्ट्रीय

असीमानंद मामला: न्यायाधीश के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार

हैदराबाद: मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में हिंदुत्व के प्रचारक स्वामी असीमानंद और चार अन्य को बरी करने वाले न्यायाधीश के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार है। अभी तक यह साफ नहीं हुआ कि उनका इस्तीफा स्वीकार हुआ अथवा नहीं।

उनके इस्तीफे के कारणों को लेकर केवल कयास ही लगाए जा रहे हैं। इस बात को लेकर कोई आधिकारिक सूचना नहीं है कि उनका इस्तीफा स्वीकार हुआ है अथवा नहीं। हैदराबाद उच्च न्यायालय के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि इस मुद्दे को सार्वजनिक नहीं करने के निर्देश दिए गए हैं।

अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर कहा कि मुद्दे पर नहीं बोलने के निर्देश जारी किए गए हैं।बहरहाल, उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के स्तर पर मामले पर चर्चा हुई है।

हैदराबाद में न्यायिक वर्ग के बीच कयास लगाए जा रहे हैं कि एनआईए मामलों के विशेष न्यायाधीश के. रविंदर रेड्डी ने आंध्रप्रदेश के न्यायाधीशों को तेलंगाना के अधीनस्थ न्यायालयों में भेजे जाने के विरोध में इस्तीफा दिया है।

चौथे अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सेशन्स न्यायाधीश ने ‘निजी कारणों’ का हवाला देते हुए इस्तीफा दिया था। रेड्डी ने तेलंगाना में अलग उच्च न्यायालय गठित करने की मांग के लिए और आंध्रप्रदेश के न्यायाधीशों को नये राज्य के अधीनस्थ न्यायालयों में पदस्थापित करने के विरोध में 2016 में आयोजित एक प्रदर्शन में हिस्सा लिया था जिस पर उच्च न्यायालय ने उन्हें फटकार लगाई थी।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *