मी टू अभियान : टाटा ने किए सुहेल सेठ के साथ कॉन्ट्रैक्ट खत्म

6 महिलाओं ने लगाया यौन उत्पीड़न करने का आरोप

नई दिल्ली :

मी टू अभियान के अतंर्गत सुहेल सेठ पर 6 महिलाओं ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे। जिसके बाद टाटा संस ने उनके साथ कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर दिया है। सायरस मिस्त्री को टाटा से हटाए जाने के बाद मैनेजमेंट और ब्रांड रीबिल्डिंग में सेठ ने अहम भूमिका निभाई थी।

मी टू के तहत उनपर लगे आरोपों के बाद से ही टाटा उनके मामले की जांच कर रहा था। सोमवार को टाटा संस के प्रवक्ता ने बताया कि सुहेल सेठ का संस्थान के साथ कॉन्ट्रैक्ट 30 नवंबर, 2018 को खत्म हो रहा है। सुहेल पर मॉडल डायेंड्रा सोरस, फिल्म निर्माता नताशा राठौर और लेखिका इरा त्रिवेदी सहित 6 महिलाओं ने यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है।

बिग बॉस की पूर्व प्रतिभागी डियेंड्रा सोरस ने सुहेल ने फेसबुक पोस्ट के जरिए यौन उत्पीड़न की दास्तां बयान की थी। उन्होंने बताया था कि यह घटना कुछ साल पहले की है जब वह दिल्ली के एक फैशन वीक के बाद आफ्टर पार्टी में शामिल होने के लिए गई थीं। जहां सुहेल ने उनके साथ बदतमीजी की। उन्होंने यह भी बताया कि उनकी भद्दी हरकरत का उन्होंने उन्हें अच्छा सबक सिखाया था।

वहीं फिल्म निर्माता नताशा राठौर ने कहा व्हाट्सएप मैसेज का स्क्रीनशॉट ट्विटर पर साझा करते हुए पोस्ट किया था। स्क्रीनशॉट साझा करते हुए उन्होंने लिखा, ‘पिछले साल यह हादसा गुड़गांव में हुआ था। सुहेल ने मुझे गलत तरीके से छूने की कोशिश की। जिसपर मैंने सुहेल सेठ को फटकार लगाई। मेरे बॉस के जरिए मेरी उनसे मुलाकात हुई थी।’

Back to top button