गांजा तस्करी मामले में मेरठ जीआरपी टीम प्रभारी ने पार्सल कार्यालय स्टाफ से की पूछताछ

गांजा तस्करी के मामले में करीब 1.30 घंटे तक करती रही पूछताछ

बिलासपुर: लगभग 60 किलो गांजा तस्करी के मामले की जांच कर रही मेरठ जीआरपी टीम प्रभारी राजीव मलिक ने शनिवार को बिलासपुर जीआरपी थाने में पार्सल कार्यालय स्टाफ से पूछताछ शुरू की।

पार्सल कार्यालय में पदस्थ चीफ सुपर वाईजर एचएस खान से टीम ने करीब 1.30 घंटे तक गांजा तस्करी के मामले में पूछताछ करती रही। चीफ सुपर वाईजर के बाद टीम ने लीज होल्डर इमरान, चंद्रशेखर यादव व मनोज झा से पूछताछ कर पार्सल पैकिंग व लोडिंग के दौरान बरती जाने वाली सावधानियों के विषय में विस्तार से पूछताछ की गई।

जीआरपी मेरठ पूछताछ के दौरान पार्सलय में पदस्थ कार्मचारियों से कई घंटे की पूछताछ के बाद टीम किसी नजीते पर नहीं पहुंच सकी। कुछ कर्मचारियों का बयान दर्ज होना अभी बाकी है। मेरठ जीआरपी मामले में रविवार को भी संदिग्धों से पूछताछ कर बयान दर्ज करने की बात कह रही है।

बिलासपुर पार्सल कार्यालय में पदस्थ कर्मचारियों से पूछताछ करने के बाद मेरठ जीआरपी आगे की जांच के लिए रायपुर रवाना होगी। क्योकी मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन पहुंचा 61 किलो गांजा ओडिसा के रास्ते रायपुर रेलवे स्टेशन पहुंचा था।

रायपुर के लीज होल्डर के फोन आने के बाद ही चंद्रशेखर ने बिलासपुर से पार्सल को बुक कर रायपुर भेजने की बात अपने बयान में दर्ज कराई है।

Tags
Back to top button