राजनीति

मिलिए इस लड़की से, जिसकी वजह से बदली सोशल मीडिया पर राहुल गांधी की तकदीर

नई दिल्ली: कांग्रेस की डिजिटल टीम गुजरात चुनाव से पहले काफी सक्रिय नजर आ रही है. जब राहुल गांधी गुजरात दौरे पर थे तब उनकी सोशल मीडिया टीम ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए ‘विकास पागल हो गया’ कैंपन चलाया.

कांग्रेस की नई डिजिटल टीम ने मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ जमकर खिंचाई करती दिख रही है. इस डिजिटल टीम में हाल ही में बदलाव किए गए हैं.

दिव्या स्पंदना उर्फ राम्या को टीम की हेड बनाया गया है. हाल ही में राहुल गांधी ने आईटी एवं सोशल मीडिया सेल प्रमुख की अध्यक्षता में सभी राज्यों की आईटी एवं सोशल मीडिया सेल को भंग कर दिया था, जिसके बाद राहुल गांधी लोगों के साथ अधिक सक्रिय रूप से जुड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं.

राम्या ने जब से सोशल मीडिया संभाला है तब से कांग्रेस के सोशल मीडिया पर बदलाव देखने को मिला है. वो सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय हैं और आमतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सत्तारूढ़ पार्टी की आलोचना के लिए जानी जाती हैं. राम्या की टीम के सामने पहली और सबसे बड़ी चुनौती ट्रॉल और नकली समाचारों का सामना करना है.

राम्या की सोशल मीडिया टीम में 85 प्रतिशत महिलाएं हैं 

पिछले तीन महीनों में उन्होंने कई पेशेवरों की भर्ती कर अपनी टीम की ताकत को दोगुना किया है. कांग्रेस की नई सोशल मीडिया टीम की 85% सदस्य महिलाएं हैं. राम्या ने जब पार्टी के डिजिटल वॉर-रूम में पहली बार कदम रखा था तो केवल तीन महिलाएं थीं.

कौन हैं दिव्या स्पंदना

दिव्या दक्षिण भारत में राम्या के नाम से फेमस कन्नड़ अभिनेत्री हैं. यहां आपको बता दें कि राम्या पिछली लोकसभा में कनार्टक में उपचुनाव जीत कर सांसद बनी थीं। लेकिन 2014 में वह हार गईं. फिलहाल वो कांग्रेस का सोशल मीडिया कम्युनिकेशन देख रही हैं.

2009 में केवल शशि थरूर का ट्विटर अकाउंट था

पार्टी में कुछ लोग डिजिटल मीडिया की ताकत को पहले से ही समझते थे. मई 2009 में शशि थरूर इकलौते भारतीय नेता थे जिनका ट्विटर अकाउंट था. उनके 6 हजार फॉलोवर्स थे. आज थरूर के 60 लाख फॉलोवर्स हैं, कांग्रेस नेताओं में सबसे अधिक. हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के थरूर से 6 गुना ज्यादा फॉलोवर्स हैं.

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *