छत्तीसगढ़

राज्यपाल के नाम अनुविभागीय अधिकारी अभनपुर को सौंपा ज्ञापन

शराब दुकान खुलते ही लोगों के मस्तिष्क में जो लाक डाउन का औचित्य था वह अब बदलने लगा है।

दीपक वर्मा अभनपुर
अभनपुर : भाजपा कार्यकर्ता दिनेश्वरी साहू की अगुवाई में क्षेत्र महिलाओं ने कोरोना वायरस के चलते शराब दुकान बंद करने राज्यपाल के नाम अनुविभागीय अधिकारी को सौंपा ज्ञापन। वहीं सैकड़ों महिलाओं ने हस्ताक्षर कर अपील किया है कि कांग्रेस सरकार पूर्ण शराबबंदी का वादा किया था यह उपयुक्त समय है कि पूर्ण शराबबंदी कर वादा निभाए।

डेढ़ -दो महीने के लाक डाउन में जब शराब दुकान पूरी तरह बंद था पूरे प्रदेश में घरेलू हिंसा एवं अपराध नियंत्रित हो चुका था। छत्तीसगढ़ के माताओं एवं बहनों को इस बात का विश्वास होने लगा था कि की छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी हो जाएगा। वहीं शराब दुकान खुलते ही लोगों के मस्तिष्क में जो लाक डाउन का औचित्य था वह अब बदलने लगा है।

मानव कल्याण अधिकार

मानव कल्याण अधिकार भ्रष्टाचार निर्मूलन संगठन के प्रदेश प्रवक्ता एवं भाजपा खोरपा मंडल संयोजक नेहरू लाल साहू ने कहा कि छत्तीसगढ़ में जिस तेजी से कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है ।ऐसी स्थिति में शराब दुकान का खुलना जहां कोरोना संदिग्ध शराब लेने पहुंचते हैं तो एक बड़ी जनसंख्या इसके संक्रमण का शिकार हो सकता है। पूर्व में भी रायपुर में समोसा बेचने वाला जो कि समोसा बेचकर रोज शाम शराब दुकान शराब खरीदने जाता था।

इस घटना के बाद सरकार को इस विषय को गंभीरता से लेना था।ऐसी स्थिति छत्तीसगढ़ के उन सभी शराब दुकानों में भी इस प्रकार की घटना घटित हो सकता है। यह एक अति संवेदनशील विषय है। शराब दुकान खोलने के बाद ऐसा भी देखने को मिला राशन सामग्री एवं राहत की वस्तुएं भेजने वाले संगठनों एवं एनजीओ शराब दुकान के भीड देखाकर अपना हाथ पीछे खींच लिया।छत्तीसगढ़ के राज्यपाल से अपील है कि सरकार और प्रशासन को शराबबंदी के लिए निर्देशित करें।

इस अवसर पर पूर्व जनपद सदस्य- राघवेंद्र साहू ,ग्राम पंचायत उल्बा के पंच- अंबिका कोसले ,पंच-केवरा बाई,लीला साहू,दमयंती साहू उपस्थित रहे।

राज्यपाल के नाम अनुविभागीय अधिकारी अभनपुर को सौंपा ज्ञापन

Tags
Back to top button