पुरुष हॉकी विश्व कप 2018 : भारत ने द. आफ्रिका के खिलाफ शानदार जीत दर्ज की

इस बीच 9वें मिनट में एक बार फिर अफ्रीकी टीम पर हमला बोला।

भुवनेश्वर।
भारत ने पुरुष हॉकी विश्व कप में बुधवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए ग्रुप सी में अपने पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को 5-0 से हराया। भारत के लिए मैन ऑफ द मैच रहे सिमरनजीत सिंह ने 2 गोल किए।

वहीं, आकाशदीप, ललित उपाध्याय और मनदीप सिंह ने 1-1 गोल दागा। भारत को अब 2 दिसंबर को बेल्जियम से खेलना है।

कलिंगा स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में भारत ने मैच की शुरुआत से ही दक्षिण अफ्रीकी टीम पर दबाव बनाने की रणनीति बनाई। इस बीच 9वें मिनट में एक बार फिर अफ्रीकी टीम पर हमला बोला।

यहां अफ्रीकी खिलाड़ी ने बॉल को गलत ढंग से ब्रेक किया और भारत ने इस पर रेफरल मांग लिया। रिव्यू भारत के पक्ष में गया और भारत को मैच का पहला पेनल्टी कॉर्नर मिल गया।

इस पर अफ्रीकी टीम के गोलकीपर ने शानदार बचाव किया, लेकिन मनदीप सिंह ने रिबाउंड पर गोल कर भारत को 1-0 की बढ़त दिलाई। दो मिनट बाद ही 12वें मिनट में आकाशदीप सिंह ने मैदानी गोल कर भारत को 2-0 की बढ़त दिला दी।

मध्यांतर तक भारत 2-0 से आगे था। भारतीय टीम के लिए मनदीप सिंह ने 43वें मिनट में गोल कर स्कोर 3-0 कर दिया। इसके दो मिनट बाद ही आकाशदीप सिंह के पास पर ललित उपाध्याय ने टीम का चौथा गोल किया।

सिमरनजीत सिंह ने टीम का पांचवां गोल पेनल्टी कॉर्नर पर 46वें मिनट में किया और अंत में मेजबान भारतीय टीम ने 5-0 के अंतर से मुकाबला अपने नाम कर लिया।

बेल्जियम ने कनाडा को 2-1 से हराया

ओलिंपिक रजत पदक विजेता और विश्व की तीसरे क्रम की बेल्जियम ने उद्घाटन मैच में 11वें क्रम की कनाडा को 2-1 से शिकस्त दी। बेल्जियम के लिए तीसरे मिनट में फेलिक्स डेनायर ने गोल दागा।

कप्तान थॉमस ब्रिएल्स ने 22वें मिनट में आर्थर वान डोरेन के मूव पर गोल दागकर बेल्जियम को 2-0 से आगे कर दिया। 48वें मिनट में मिले पेनल्टी कॉर्नर पर कनाडा के अनुभवी मार्क पीयरसन ने गोल दागकर स्कोर 2-1 कर दिया।

भारत और द. अफ्रीका का रिकॉर्ड :

भारत और द. अफ्रीका के बीच विश्व कप में अभी तक चार बार मुकाबले हुए और इनमें से एक बार भी भारत को हार नहीं मिली हैं। भारत ने इनमें से एक मैच जीता जबकि तीन मैच ड्रॉ रहे।

वैसे इन दोनों टीमों के बीच अभी तक कुल 42 मैच खेले जा चुके है और इनमें से भारत ने 25 मैच जीते जबकि 8 मैचों में उसे हार मिली।

आठ बार की ओलिंपिक चैम्पियन भारतीय टीम 1975 में एकमात्र विश्व कप जीती थी जब अजित पाल सिंह और उनकी टीम ने इतिहास रच डाला था।

भारत ने 1975 के बाद सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन मुंबई में 1982 में हुए विश्व कप में किया जब वह पांचवें स्थान पर रहा था। भारत पिछले 43 साल में विश्व कप का कोई पदक हासिल नहीं कर पाया है।

भारत के ग्रुप में बेल्जियम और कनाडा भी

सोलह देशों के टूर्नामेंट में भारत , दक्षिण अफ्रीका, बेल्जियम और कनाडा पूल सी में हैं। दुनिया की तीसरे नंबर की टीम बेल्जियम से भारत को सतर्क रहने की जरूरत है जबकि दक्षिण अफ्रीका की रैंकिंग 15 और कनाडा की 11 है।

बेल्जियम के खिलाफ मैच पूल चरण में असल चुनौती होगा जिसमें जीतकर भारत सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाना चाहेगा ताकि क्रॉसओवर नहीं खेलना पड़े। बेल्जियम से सामना दो दिसंबर को और कनाडा से आठ दिसंबर को होगा।

 

1
Back to top button