अंतर्राष्ट्रीयअन्यखेल

मर्सिडीज रेसर लुईस हैमिल्टन ने एक बार फिर जीता फॉर्मूला-1 खिताब

मर्सिडीज के रेसर लुईस हैमिल्टन ने रविवार को मैक्सिको फॉर्मूला वन ग्रांप्रि रेस में दूसरा स्थान हासिल कर यह खिताब अपने नाम किया। उन्होंने ने इस साल की फॉर्मूला-1 चैंपियनशिप जीत ली है।

मैक्सिको सिटी। ब्रिटिश रेसर ने अपने करियर में पांचवीं बार फॉर्मूला-1 खिताब पर कब्जा किया है। वे ऐसा करने वाले तीसरे रेसर बन गए हैं।

हैमिल्टन ने इसके साथ ही अर्जेंटीना के दिग्गज जुआन मैनुएल फांगियो के 5 खिताब जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। हालांकि, वे जर्मनी के रेसर माइकल शूमाकर के रिकॉर्ड की बराबरी करने से दो खिताब पीछे हैं। शूमाकर ने सात बार एफ-1 का खिताब को अपने नाम किया है, जो विश्व रिकॉर्ड है।

खिताबी जीत के बाद हैमिल्टन ने कहा, यह बहुत ही अजीब एहसास है। यह जीत मुझे काफी कड़ी मेहनत और कई रेसों से गुजरने के बाद मिली है। यह एफ-1 के करियर में सबसे अच्छा साल है।

मैक्स वर्स्तापेन ने जीती मैक्सिको ग्रांप्रि : रेडबुल टीम के रेसर नीदरलैंड्स के मैक्स वर्स्तापेन ने मैक्सिको ग्रांप्रि रेस में जीत दर्ज की। इसके साथ ही वे रेडबुल टीम के सबसे कम उम्र के रेसर बन गए, जिसने कोई रेस जीती है। उन्होंने हैमिल्टन के पछाड़कर पहला स्थान हासिल किया। हैमिल्टन को खिताब जीतने के लिए यहां सातवां स्थान हासिल करने की दरकार थी। उन्होंने अपने अच्छे प्रदर्शन के दम पर इस रेस में दूसरा स्थान हासिल किया। इससे उन्हे 18 अंक मिले।

हैमिल्टन ने साल की 19 में से 9 रेस जीती : फॉर्मूला-1 चैंपियनशिप में इस साल 21 रेस होनी हैं। लुईस हैमिल्टन ने इनमें से 19वें रेस में ही ड्राइवर चैंपियनशिप जीतने के लिए जरूरी 358 अंक हासिल कर लिए। उन्होंने साल की 19 में से नौ रेस जीतीं और तीन में दूसरे नंबर पर रहे। जर्मनी के सेबेस्टियन वेटल ड्राइवर चैंपियनशिप में 294 अंकों के साथ दूसरे नंबर पर चल रहे हैं। अगर वेटल अगली दो रेस जीत लें तो भी उनके अधिकतम 344 अंक ही हो सकते हैं और उस स्थिति में भी वे हैमिल्टन से पीछे ही रहेंगे।

 

 

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
मर्सिडीज रेसर लुईस हैमिल्टन ने एक बार फिर जीता फॉर्मूला-1 खिताब
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt