राजधानी में इस दिन महिलाएं बाईक रैली निकालकर मतदान का देंगी संदेश

स्वीप फाग व कुपोषण होलिका दहन कार्यक्रम 26 को मरीन ड्राईव में

रायपुर:लोकसभा निर्वाचन में रायपुर जिले में शतप्रतिशत मतदान को प्रोत्साहित करने के लिए मोर रायपुर – वोट रायपुर अभियान के तहत आगामी 20 मार्च को सुबह 8 बजे 400 महिलाएं बाईक रैली निकालकर लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करेंगी। रायपुर संभाग के आयुक्त जी.आर. चुरेन्द्र, कलेक्टर डाॅ. बसवराजु एस., वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और स्वीप के नोडल अधिकारी डाॅ. गौरव कुमार सिंह रैली को कलेक्टोरेट परिसर से हरी झण्डी दिखाकर रवाना करेंगे। यह रैली शहर के मुख्य मार्ग से होते हुए अनुपम गार्डन में समाप्त होगी।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और स्वीप के नोडल अधिकारी डाॅ. गौरव कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिला कलेक्टोरेट परिसर स्थित रेडक्राॅस सभाकक्ष में स्वीप कार्यक्रम के तहत जिले में आगामी दिनों में महिला एवं बाल विकास विभाग के मैदानी अमलों द्वारा आयोजित की जाने वाली मतदाता जागरूकता गतिविधियों की रूपरेखा तय की गयी। इस अवसर पर उन्होंने उपस्थित महिला एवं बाल विकास विभाग के सभी परियोजना अधिकारी और सुपरवाईजरों को अनिवार्य रूप से मतदान करने तथा लोगों को मतदान के लिए प्रेरित करने का संकल्प भी दिलाया।

डाॅ. सिंह ने बताया कि आगामी 26 मार्च को तेलीबांधा मरीन ड्राईव में महिलाओं द्वारा स्वीप फाग और कुपोषण होलिका दहन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसमें किशोरी बालिकाओं की सायकल रैली, महिला समूहों के बीच विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन, सांस्कृतिक कार्यक्रम, मतदाता जागरूकता एवं सुपोषण की शपथ के साथ ही होलिका दहन व सुपोषण मशाल रैली व दीप प्रज्जवलन कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। महिलाओं द्वारा इस अवसर पर स्वीप फाग गायन और स्वीप रंगोत्सव का आयोजन किया जाएगा। इसके अलावा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, सहायिकाओं और समूह की महिलाओं द्वारा गांवों में घर-घर जाकर वोट रक्षा सूत्र बांधा जाएगा तथा लोगों को पीला चावल भेंटकर मतदान दिवस को वोट देने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

स्वीप कार्यक्रम के तहत सभी ग्राम पंचायतों में शाम को महिलाओं द्वारा कलश यात्रा, बालक-बालिका सम्प्रेक्षण गृहों में चित्रकला प्रतियोगिता, स्वीप सलाद व मिठास प्रतियोगिता, स्वीप मेहंदी प्रतियोगिता आदि आयोजित की जाएंगी। इसके अलावा सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता प्रत्येक बूथ पर महिलाओं को सुरक्षित वोट डलवाने हेतु वोट संगवारी के रूप में कार्य करेंगी। यदि किसी महिला के पास मोेबाइल या गोद में बच्चा होगा तो उसे अपने पास सुरक्षित रखेंगे ताकि महिलाओं को वोट डालने में कोई परेशानी न हो। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी पाण्डेय सहित महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी और सुपरवाईजर उपस्थित थे।

Back to top button