#Metoo: राजकुमार हिरानी पर लगा सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप, हिरानी ने किया इंकार

आलोक नाथ पर हैरेसमेंट का आरोप लगाने लेखिका विन्ता नंदा ने सबसे पहले इस पर अपना रिऐक्शन दिया है।

मीटू अभियान के तहत हालही में फिल्म निर्माता राजकुमार हिरानी पर फिल्म ‘संजू’ में उनके साथ काम करने वाली महिला ने सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाया है।

हालांकि, फिल्म निर्माता ने इन आरोपों से इनकार किया है। हिरानी के वकील आनंद देसाई ने आरोप को झूठा, शरारतपूर्ण, लज्जाजनक और बदनाम करने वाला करार दिया है।

हिरानी पर लगे आरोप से इंडस्ट्री में हलचल मच गई है। वहीं, आलोक नाथ पर हैरेसमेंट का आरोप लगाने लेखिका विन्ता नंदा ने सबसे पहले इस पर अपना रिऐक्शन दिया है।

विन्ता ने ट्विटर पर लिखा है कि, ‘मीटू का ताजा मामला काफी परेशान कर देने वाला है। आखिर वो कौन है जिसपर महिलाएं भरोसा कर सकती हैं।

ऐसी चीजों को सहन करना अब बहुत मुश्किल हो गया है। दूसरी ओर हमारा मुवक्किल कहता है कि ये आरोप झूठा, शरारतपूर्ण, लज्जाजनक और बदनाम करने वाला करार दिया है।

‘बता दें कि, विन्ता खुद इस कैंपेन के तहत अपनी आप-बीती मीडिया के सामने बता चुकी हैं। उन्होंने एक्टर आलोकनाथ पर यौन शोषण का आरोप लगाया था।

क्या है मामला?

राजकुमार हिरानी पर फिल्म ‘संजू’ के पोस्ट प्रॉडक्शन के दौरान उनकी असिस्टेंट रही महिला ने एक से अधिक बार यौन शोषण करने का आरोप लगाया गया है।

एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में पीड़िता ने कहा कि, ‘6 महीने तक मैंने यह सब सहन किया। विरोध करने पर हिरानी ने मुझे फिल्म से निकालने की धमकी तक दे डाली थी।’

महिला ने आरोप लगाया है कि 2018 में मार्च से सितंबर के बीच वह एक से अधिक बार यौन उत्पीड़न का शिकार हुई।
महिला ने ‘संजू’ के को-प्रोड्यूसर विधु विनोद चोपड़ा को भी तीन नवंबर 2018 को मेल से जानकारी दी थी। चोपड़ा हिरानी के पुराने सहयोगी रहे हैं।

महिला ने कहा है कि सबसे पहले नौ अप्रैल 2018 को उस पर भद्दी टिप्पणी की। इसके बाद अपने घर व दफ्तर में यौन उत्पीड़न किया।

महिला ने मेल में लिखा था ये सब

चोपड़ा को भेजे गए ईमेल में महिला ने लिखा है, ‘मैं इसे शब्दों में बयान करना चाहती थी। सर उनके कद के कारण ऐसा करना गलत होता।

आपके पास सभी अधिकार हैं और मैं एक महज सहायिका जो कुछ भी नहीं है। मैं कभी आपके सामने कुछ नहीं कह पाऊंगी।’ महिला ने हिरानी को अपना फादर फिगर कहा है।

ईमेल में कहा है, ‘मेरा दिमाग, शरीर और हृदय उस रात और अगले छह महीने पूरी तरह विद्रोह कर उठा था।’

महिला ने चोपड़ा की पत्नी और फिल्म की आलोचक अनुपमा चोपड़ा, फिल्म के स्क्रिप्ट राइटर अभिजात जोशी, फिल्म निर्माता और चोपड़ा की बहन शेली चोपड़ा को भी मेल में मार्क किया है।

 

Back to top button