नोएडा आने से कुर्सी चले जाने का डर रखने वालों को सीएम बनने का हक नहीं: पीएम मोदी

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के औद्योगिक शहर नोएडा में आज दिल्ली मेट्रो की नई मजेंटा लाइन के उद्घाटन समारोह में शामिल होकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने 28 साल से चले आ रहे अंधिविश्वास को तोड़ दिया. इस अंधविश्वास को तोड़न के लिए पीएम मोदी ने यूपी सीएम योगी की जी भरकर प्रशंसा की.

बीते 28 सालों से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों में ऐसी धारणा बन गई थी कि जो भी नोएडा आता है उसकी कुर्सी चली जाती है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने राजनीतिक रूप से ‘अशुभ’ माने जाने वाले नोएडा आने पर कहा, ‘नोएडा के बारे में छवि बन गई थी कि कोई मुख्यमंत्री यहां आ नहीं सकता. आज मुझे खुशी है कि योगीजी ने उस मिथक को बगैर बोले अपने आचरण से सिद्ध कर दिया कि ये सब मान्यताएं गलत हैं, आधुनिक युग ऐसा हो नहीं सकता. इसलिए मैं योगीजी को हृदय से बधाई देता हूं.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘योगी आदित्यनाथ अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन उनके कपड़ो पर लोग तंज करते हैं. योगी जी के आधुनिक नहीं होने का भ्रम फैलाया जा रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी अंधविश्वास को लेकर पहले के मुख्यमंत्रियों पर निशाना साधते हुए कहा, ‘मुझे भी अंधविश्वास का भय दिखाया गया, मुझे भी कुछ जगहों पर जाने से कुर्सी चले जाने का भय दिखाया गया. मैं इन सभी जगहों पर गया और उसके बाद भी लंबे समय तक सीएम रहा.

पीएम ने कहा, ‘नोएडा आने से कुर्सी चले जाने का डर रखने वालों को सीएम बनने का हक नहीं. श्रद्धा का अपना स्थान होता है पर अंधश्रद्धा के लिए कोई स्थान नही है|

पीएम मोदी ने आज दिल्ली मेट्रो की बॉटेनिकल गॉर्डन -कालकाजी (मजेंटा लाइन) नई मेट्रो सेवा का उद्घाटन किया. इस नई रेल लाइन से नोएडा सीधे दक्षिणी दिल्ली से जुड़ गया है.

advt
Back to top button