11 महीने पहले अगवा नाबालिग लड़की छुड़ाई गई, 2 महीने के बच्चे की है मां

नई दिल्ली: दिल्ली महिला आयोग ने एक 17 साल की लड़की को आजाद कराया है, जिसे 11 महीने पहले अगवा कर लिया गया था। यह लड़की सुल्तानपुरी इलाके से है और जब इसे बरामद किया गया, वह दो महीने के बच्चे की मां बन चुकी थी।

लड़की ने बताया कि उसे उसके पड़ोसी लड़के ने 11 महीने पहले अगवा किया और उत्तर प्रदेश के हाथरस ले जाकर जबर्दस्ती शादी कर ली। हाल ही में लड़की की छोटी बहन ने आयोग की विमन हेल्पलाइन 181 में इस मामले में शिकायत की।

इस पर दिल्ली महिला आयोग की चेयरपर्सन स्वाति जयहिंद ने लड़की को छुड़वाने के लिए एक टीम बनाने का आदेश दिए। टीम और दिल्ली पुलिस ने मिलकर पड़ोसी के घर से लड़की को बरामद किया।

लड़की का कहना है कि उसके अगवा होने का मामला सुल्तानपुरी पुलिस थाने में पहले ही दर्ज किया गया था। उसने बताया कि उसे 11 महीने पहले लड़के की छोटी बहन ने फुसलाकर अपने घर बुलाया, जहां लड़के और उसके बड़े भाई ने उसे बंदी बना लिया।

इसके बाद लड़का उसे हाथरस ले गया और उसकी इच्छा के खिलाफ शादी कर ली। लड़की ने बताया कि लड़के ने उसका सेक्सुअल हैरसमेंट किया। बार-बार मिन्नत करने पर उसे कहा गया कि उसे घर तभी जाने दिया जाएगा, जब उनका बच्चा होगा।

आरोप है कि बच्चा होने के बाद लड़का उसे सुल्तानपुरी अपने घर ले गया। छठ के दौरान लड़की की छोटी बहन ने जब अपनी बहन को देखा, तो उसने पूरी कहानी बताई। इसके बाद बहन ने दिल्ली महिला आयोग से मदद मांगी।

स्वाति जयहिंद ने लड़की की बहन की हौसला अफजाई करते हुए कहा है कि अगर कोई भी महिला किसी दिक्कत में है तो वह हेल्पलाइन नंबर 181 में कॉल करके मदद ले सकती है।

1
Back to top button