मिखाइल ने सीबीआई को लिखा पत्र,कहा-मां से है जान को खतरा

सुरक्षा चिंताओं पर ध्यान देने का निर्देश देने की मांग करते हुए यहां निचली अदालत पहुंची

नई दिल्ली. शीना मर्डर केस में सरकारी गवाह मिखाइल बोरा ने सीबीआई को पत्र लिखकर कहा है कि उसे मुख्य आरोपी अपनी मां इंद्राणी मुखर्जी से जान का खतरा है. केंद्रीय जांच एजेंसी, असम के अधिकारियों को मिखाइल बोरा की सुरक्षा चिंताओं पर ध्यान देने का निर्देश देने की मांग करते हुए यहां निचली अदालत पहुंची. मिखाइल गुवाहाटी में रहता है.

सीबीआई के एक अधिकारी ने अदालत से कहा कि उन्हें मिखाइल से ई-मेल मिला है. मिखाइल ने उन्हें लिखा है कि उसे अपनी जान का खतरा है और यह कि उसकी बहन शीना बोरा की हत्या की आरोपी उसकी मां उसे भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर सकती है. असम में संबंधित अधिकारी को गवाह की जान पर खतरे के बारे में सूचित किए जाने की जरुरत है.

इस ईमेल में मिखाइल ने लिखा है कि इंद्राणी नहीं चाहती है कि उसकी मां दुर्गा रानी बोरा की वसीयत को अदालत द्वार प्रमाणित किया जाए. इसलिए वह मिखाइल को परेशान करने के लिए विभिन्न हथकंडे अपना रही है. इस वसीयत से मिखाइल को सारी संपत्ति मिल जाएगी और इंद्राणी को कुछ नहीं मिलेगा. इस वजह से मिखाइल बहुत डरा हुआ है.

ई-मेल में लिखा है, ‘मैं अपने घर में हमेशा अकेला रहता हूं. मेरी मदद के लिए कोई नहीं होता है. मुझे इंद्राणी मुखर्जी से अपनी जान का डर सता रहा है.’ अदालत ने सीबीआई की अर्जी पर कोई आदेश जारी नहीं किया. लेकिन उसने इंद्राणी की पूर्व सचिव काजल शर्मा की गवाही रिकार्ड करना जारी रखा. मिखाइल इंद्राणी के पति की संतान और शीना का भाई है.

new jindal advt tree advt
Back to top button