मिनीमाता की पुण्यतिथि व खुदीराम बोस की शहादत दिवस कांग्रेस भवन में मनाया

नईम खान

बिलासपुर।

शहर कांग्रेस कमेटी ने आज पूर्व सांसद मिनीमाता (मीनाक्षी देवी) की 47वीं पुण्यतिथि एवं खुदीराम बोस की 111वीं शहादत दिवस कांग्रेस भवन में मनाया गया और छायाचित्रों पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी गई।

शहर अध्यक्ष नरेंद्र बोलर और कार्यक्रम के संयोजक सैय्यद जफर अली ने कहा कि छत्तीसगढ़ को आज भी लोग पिछड़ा क्षेत्र कहते है पर कौशल्या की धरती ने प्रथम आम चुनाव 1952 में मिनीमाता को लोकसभा भेजा, मिनीमाता ने अपने 20 वर्षों के संसदीय जीवन में छत्तीसगढ़ के विकास के लिए बहुत काम की।

बांगो बांध जैसी बड़ी परियोजना है। 11 अगस्त 1972 को भोपाल से दिल्ली जाते समय हवाई दुर्घटना में असमायिक मौत हो गई ।
हरीश तिवारी ,पूर्व विधायक द्वय अरुण तिवारी,चन्द्रप्रकाश बाजपाई एस एल रात्रे ने कहा कि खुदीराम बोस एक युवा तरुणाई थे। ,

अंग्रेजों के अत्याचार से व्यथित होकर क्रांति का मार्ग अपनाया। उन्होंने बड़े-बड़े घटना को अंजाम दिए पर सभी घटना में अंग्रेज अधिकारी बच निकले। उनके ऊपर कई केस चला पर न्यायाधीश किंग्स फोर्ड पर बम फेंके और इसी केस में उन्हें फांसी की सजा हुई । उस समय उनकी आयु मात्र 19 वर्ष थी ।

कार्यक्रम में माधव औतालवार शैलेन्द्र जायसावाल,विनोद साहू ने भी विचार रखा। इस अवसर पर विनोद शर्मा,त्रिभुवन कश्यप,मनोज शर्मा,दीपक पांडेय,हर मेंद्र शुक्ला,अजय मल्लू,अजय काले,हेमन्त दिघरस्कर,कमलेश लवहतरे,सुभाष सराफ और शहर प्रवक्ता ऋषि पांडेय आदि थे ।

Tags
Back to top button