मंत्री अमर अग्रवाल का विवादित बयान, कांग्रेसियों की पिटाई जरूरी है

मनमोहन पात्रे

बिलासपुर ।

कांग्रेसियों पर लाठीचार्ज की घटना के बाद नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल पहली बार खुलकर बोले। उन्होंने कुंदन परिसर में कार्यकर्ताओं से रूबरू होते हुए एक बार फिर लाठीचार्ज की घटना का जिक्र किया। मंत्री ने कहा कि पुलिस ने बहुत ज्यादा तो नहीं मारा है। थोड़ी बहुत ही लाठी मारी है। घटना के बाद हजारों लोगों ने मुझे फोन किया। लोगों ने कहा कि ये इसी लायक हैं।

कम पड़ी है और पिटाई होनी थी। कुंदन परिसर में बिलासपुर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं का सम्मेलन आयोजन किया गया। इसमें प्रदेश भाजपाध्यक्ष धरमलाल कौशिकएडिप्टी स्पीकर बद्रीधर दीवानएसांसद लखन लाल साहूएअजा मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष डॉण्कृष्णमूर्ति बांधी सहित दिग्गज भाजपाई मौजूद थे।दिग्गजों के अलावा मंत्री अमर ने भी कार्यकर्ताओं के बीच अपनी बात रखी।

उन्होंने कहा कि हमारे पास हजारों की संख्या में कार्यकर्ता हैं। उनके पास गिनती के कार्यकर्ता हैं। कितने होंगे 100 से ज्यादा नहीं हैं। हजारों कार्यकर्ता भी इस तरह के काम कर सकते हैं। छत्तीसगढ़ शांत राज्य है। इसमें बिलासपुर की गिनती तो प्रदेश में शांत शहर के रूप में होती है। शहर की संस्कृति कभी भी ऐसी नहीं रही है। हम इस तरह की घटना को अंजाम देना नहीं चाहते।

Back to top button