राजनीतिराष्ट्रीय

मंत्री पद और गठबंधन हमारे लिए किसानों से बढ़कर नहीं: सुखबीर सिंह बादल

अकाली दल ने किसानों के मुद्दे पर दी एनडीए से अलग होने की धमकी

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून को लेकर बीजेपी से दूरी बनाने के बाद भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की पुरानी सहयोगी अकाली दल ने एक बार फिर किसानों के मुद्दे पर एनडीए से अलग होने की धमकी दी है. पार्टी के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि मंत्री पद और गठबंधन हमारे लिए किसानों से बढ़कर नहीं है. हम कुर्बानी दे सकते हैं.

लगातार बढ़ते डीजल की कीमतों पर सुखबीर बादल ने कहा कि अगर पंजाब सरकार डीजल पर 10 रुपये कम करने को तैयार है तो वो पंजाब की सभी पार्टियों के साथ मिलकर टैक्स कम करवाने को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ दिल्ली में धरना देने को तैयार हैं.

सुखबीर बादल ने कहा कि 18 दिनों में पेट्रोल व डीजल की कीमतों में भारी बढ़ोतरी से देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है. किसान पहले से ही धान की बिजाई के लिए श्रम शुल्क में बढ़ोतरी झेल रहे थे. अब डीजल की कीमतें बढ़ने से उन पर बहुत असर पड़ेगा, इसलिए केंद्र सरकार को इस मुद्दे पर गंभीरता से विचार करना चाहिए.

एग्रीकल्चर ऑर्डिनेंस में फसलों की एमएसपी के मुद्दे पर सुखबीर बादल ने कहा कि अगर केंद्र सरकार उन्हें आश्वासन देने के बावजूद एमएसपी और खरीद के आश्वासन को खत्म कर देगी तो अकाली दल न तो गठबंधन की परवाह करेगा और न ही सरकार में भागीदारी की. अकाली दल किसी भी कुर्बानी के लिए तैयार है. हम पंजाब के किसानों के हितों का नुकसान नहीं होने देंगे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button