मुंगेली पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी 12 घंटे में ही नाबालिग चोर गिरोह गिरफ्तार

सिटी कोतवाली पुलिस के हत्थे चार नाबालिक गिरफ्तार आरोपियों से चोरी के नगदी पैसा बरामद कर लिए गए

मुंगेली – कृषि उपज मंडी परिसर मे बीते दिनों देर रात शटर उखाड़कर गल्ले से चोरी करने वाले बिलासपुर के शातिर आदतन नाबालिग चोर गिरोह क्राइम ब्रांच, पथरिया व सिटी कोतवाली पुलिस के हत्थे चार नाबालिक गिरफ्तार आरोपियों से चोरी के नगदी पैसा बरामद कर लिए गए।

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार सिटी कोतवाली क्षेत्र के मुंगेली कृषि उपज मंडी परिसर में 24 जून दिन रविवार को देर रात दो दुकानों की ताला तोड़कर समान सहित गल्ले से नगदी चिल्हर सिक्का चोरी की वारदात के खुलासा किया गया,

जहाँ दुकानदार के रिपोर्ट में पुलिस वारदात स्थल पहुचे दुकान के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच में चोरी के वारदात को अंजाम देते साफ दिखाई दे रही बिलासपुर चिंगराज पारा नाबालिग चोरो को कोतवाली पुलिस ने सीसीटीवी की फुटेज को बारीकी से छानबीन की गई,

जिसके मदद से मुंगेली कोतवाली निरीक्षक आशीष अरोरा ने चोरो की पतासाजी एवं मुखबिर की सूचना में बिलासपुर रेलवे स्टेशन पहुचे जहाँ एक आरोपी को सीसीटीवी फुटेज के मदद से चेहरे की पहचान की गई,

जिससे कड़ाई से पूछताछ के बाद कृषि उपज मंडी में की गई चोरी का अंजाम को काबुल किया साथ मे सहयोगी 3 आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. नाबालिक चोरो से पूछताछमें पथरिया वर्मा किराना के चोरी को भी स्वीकार किया.

पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ करने पर न तो मुंगेली के साथ साथ पथरिया थाना छेत्र के एक किराना दुकान में चोरी करने की वारदात को भी कबूला पथरिया थाना छेत्र के एक किराना दुकान में हुई चोरी के अंजाम को भी आरोपी ने काबुल किया जिसके आधार से पथरिया पुलिस ने मामले की जांच में जुट गई है.

झोला में भरकर चिल्हर सिक्के पैसा ले भागे किराना दुकान में चोरी की घटना को अंजाम देने नाबालिग चोर ने शटर का ताला को तोड़कर सब से पहले गल्ले में पड़े रुपये के चिल्हर सिक्के को दुकान में पड़े झोला में भरे फिर सुबह 5 बजे तक बिलासपुर जाने के लिए बस का इंतजार करते नया बस स्टैंड में खड़े रहे.

आरोपी बिलासपुर पहुचने के बाद चार हिस्सो में चारो आरोपी ने बिना पैसे गिने बटवारा किये।पुलिस ने इनसे मोटरसाइकिल, नई सायकल नगद सिक्के जप्त कर लिए।पुलिस नेअपचारी नाबालिक चोरों के विरुद्ध 457/380 पंजीबद्घ कर बाल न्यायालय पेश किया गया।

Back to top button