तीन बार लड़का बनकर रचाई शादी, तीसरी ‘बीवी’ ने खोला हैरतअंगेज राज

जया ने पुलिस को जानकारी दी कि उसे रमादेवी ने लड़के जैसा व्यवहार कर धोखा दिया है

तीन बार लड़का बनकर रचाई शादी, तीसरी ‘बीवी’ ने खोला हैरतअंगेज राज

एक बेहद दिलचस्प लेकिन चौंकाने वाली घटना घटी, जब एक नाबालिग लड़की ने लड़का बनकर एक, दो बार नहीं बल्कि तीन बार शादी रचाई. तीसरी बार की शादी में उसका यह राज खुला.

बी रमादेवी नाम की एक नाबालिग लड़की है, जिसके खिलाफ आंध्र प्रदेश के कडापा जिले की जम्मालादुगु में एक लड़की ने केस दर्ज कराया है. केस दर्ज कराने वाली लड़की का कहना है कि आरोपी लड़की की वह ‘बीवी’ है.

पुलिस का कहना है कि रमादेवी कासी-नयाना मंडल में इतिका-लपाडु गांव से आती है और तमिलनाडु में एक मिल में काम करती है. वह हमेशा लड़कों जैसा कपड़ा पहनती है. काम के दौरान उसने पेड्डामुदियाम मंडल में भीमागुंदम गांव की 17 साल की लड़की जया (बदला हुआ नाम) को दोस्त बना लिया. यह लड़की भी उसी मिल में काम करती थी.

धीरे-धीरे यह दोस्ती प्यार में बदल गई और दोनों ने दो महीने पहले शादी करने का फैसला कर लिया. हालांकि जया को इस बात का पता लगाने में 2 महीने लग गए कि उसका ‘पति’ लड़का न होकर एक लड़की ही है. जब जया को यह बात मालूम हुई तो उसने अपने माता-पिता को पूरी जानकारी दी.

पहले की 2 लड़कियां भी थीं नाबालिग

जया ने पुलिस को जानकारी दी कि उसे रमादेवी ने लड़के जैसा व्यवहार कर धोखा दिया है. पुलिस ने मामले की तफ्तीश की तो पता चला कि रमादेवी की यह तीसरी शादी थी. इससे पहले 2 और लड़कियों के साथ शादी कर चुकी थी.

जया से पहले रमादेवी ने जिन दो लड़कियों से शादी रचाई उनमें से एक कडापा जिले की प्रोड्डतूर की 16 साल की लड़की माया (नाम बदला हुआ) और अनंतपुर जिले की कोथाचेरुवू की 17 साल की माधुरी (नाम बदला हुआ) हैं. पुलिस के अनुसार, शादी करने वाली पहले दोनों लड़कियों का मेडिकल परीक्षण कराया गया तो पता चला कि उनका मानसिक स्थिति सही नहीं थी.

advt
Back to top button