छत्तीसगढ़

लापता बसपा प्रत्याशी कटामी पहुंचे सुकमा, बोले-नाम नहीं लूंगा वापस

अमित जोगी पर लगाया अपहरण करने का आरोप

जगदलपुर/ रायपुर।

छत्तीसगढ़ में सुकमा जिले की कोंटा विधानसभा सीट से गठबंधन के प्रत्याशी के खिलाफ बागी तेवर दिखाने वाले बसपा प्रत्याशी बुधराम कटामी रायपुर से लापता हो गये थे। उनके लापता होने की मौखिक शिकायत राजधानी रायपुर के राजेन्द्र नगर थाने में की गई थी।

शुक्रवार की सुबह कटामी अचानक सुकमा पहुंचे और आरोप लगाया कि अमित जोगी ने उनका अपहरण करवाया था।

मुझे जान का खतरा

इसके कुछ समय बाद कटामी जिला निर्वाचन कार्यालय पहुंचे और प्रारूप पत्र 4 में अपना नाम क्रम नीचे कराने के लिए शपथ पत्र दिया। बाद में इस मामले में कुछ भी कहने से कटामी ने इंकार कर दिया और कहा कि अपहरण जैसी कोई बात नहीं है।

इसके साथ ही सीपीआई उम्मीदवार मनीष कुंजाम का नाम लेते हुए कटामी ने कहा कि मनीष ने फोन कर मुझे नाम वापस लेने की धमकी दी है। उससे मुझे जान का खतरा है, लेकिन मैं नाम वापस नहीं लूंगा और चुनाव जरूर लड़ूंगा।

बता दें कि बसपा ने छत्तीसगढ़ में अजीत जागी की पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के साथ विधानसभा चुनाव के लिए गठबंधन किया है। बाद में सीपीआई भी इस गठबंधन शामिल हो गई। सीपीआइ को कोंटा और दंतेवाड़ा सीट दी गई है।

कोंटा से गठबंधन प्रत्याशी के रूप में सीपीआई के मनीष कुंजाम ने पर्चा दाखिल किया है। इससे नाराज काटामी ने भी नामांकन दाखिल कर दिया। बसपा और जकांछ के नेताओं ने काटामी को मनाने का पूरा प्रयास किया, लेकिन वे नाम वापस लेने को राजी नहीं थे। चुनाव के पहले चरण में शामिल कोंटा सीट पर शुक्रवार को नाम वापसी का अंतिम दिन है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
लापता बसपा प्रत्याशी कटामी पहुंचे सुकमा, बोले-नाम नहीं लूंगा वापस
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt