छत्तीसगढ़

क्या है मिशन 2018 का ब्रम्हास्त्र, जाने सीएम रमन की जुबानी…

रायपुर: आगामी विधान सभा चुनावों का विकास ही ब्रम्हास्त्र होगा । रविवार को ये बातें प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने भाजपा की प्रदेश समिति को सम्बोधित करते वक्त कही । उन्होंने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार का लक्ष्य प्रदेश में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के जीवन स्तर को ऊंचा उठाना है, उसे समृध्द बनाना है। किसान हमारे देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ की हड्डी है।

इस वर्ष अकाल की काली छाया ने किसानों के चेहरे पर मायूसी ला दी थी, लेकिन हम प्रतिबध्द रहे अपने अन्नदाताओं के जीवन में खुशहाली लाने के लिए। सरकार ने इसी भावना के अंतर्गत 2100 करोड़ रुपए देश के सबसे बड़े त्यौहार दिवाली के पूर्व वितरित करने का लक्ष्य बनाया और उसे पूरा भी किया। आज किसानों के चेहरे पर जो प्रसन्नता की चमक दिखाई देती है वह भारतीय जनता पार्टी के जनता के प्रति प्रतिबध्दता का पुरस्कार है।

हमारे इस मानवीय कदम का मुद्दा विहीन और जनता की ओर से तीन चुनावों से नकारा जा चुका विपक्षी दल कांग्रेस झूठे आरोप लगाकर विरोध कर रहा है। कांग्रेस राजनीतिक विरोध में लोकतांत्रिक मर्यादाओं की सीमाओं का उलंघन करते हुए यह कह रही है कि, किसान इस बोनस के पैसे से शराब का सेवन करेंगे जिसकी हम घोर निंदा करते है। हम ऐसे राजनीतिक हथकंडो से घबराने वाले नही है और धान बोनस के बाद अब हम तेंदूपत्ता बोनस और चरण पादुका वितरण भी करने जा रहे है। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि, आगामी राज्योत्सव के उद्घाटन अवसर पर उपराष्ट्रपति वेकैंया नायडू और समापन कार्यक्रम में महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की गरिमामय उपस्थिति हमें प्रेरित करेगी।

राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री सौदान सिंह ने प्रदेश कार्यसमिति के सदस्यों से आह्वान किया कि, हमने जो सदस्य बनाए है अब हमें बूथ स्तर से लेकर मंडलों तक उनके सम्मेलन कराना चाहिए। यहीं नहीं हमें हमारे विजय हुए सरपंचों, नगर निगम के पार्षदों और इन निकायों में पराजित प्रत्याशियों को भी जिम्मेदारी देते हुए पार्टी के कार्यक्रमों से जोडऩा हैं। उन्होंने कहा भारतीय जनता पार्टी विचारधारा आधारित दल है। हमें हमारे प्रणेता पं. दीनदयाल, श्यामा प्रसाद के विचार आधारित विषयों पर सभी मोर्चो के सम्मेलन विधानसभा तथा लोकसभा में करना है। समयदानी कार्यकर्ताओं का भी सम्मेलन करने की आवश्यकता है।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि, हमें आगामी विधानसभा चुनाव में मिशन 66 के लिए अभी से जुट जाना है और राज्य सरकार की ओर से किए जा रहे विकास कार्य तथा हमारे समर्पित कार्यकर्ताओं की फौज के सहारे हम इस लक्ष्य को अवश्य करेंगे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवादी विचारधारा को लेकर शुरू हुआ कुछ व्यक्तियों का समूह आज 11 करोड़ सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में स्थापित हो चुका है।

आज हमारे केंद्र और राज्य सरकारें जनता की स्मृध्दि के लिए प्रतिबध्द है। अभी हमारी छत्तीसगढ़ सरकार ने इसी तारतम्य में अकाल को देखते हुए किसान भाईयों के लिए बोनस की घोषणा की है। हमारी सरकार आगे भी जनआकांक्षाओं को पूरा करने के लिए वचनबध्द है। उन्होंने विपक्षी दल कांग्रेस की ओर से विकास के कार्यक्रमों का विरोध करते समय प्रयोग करने वाले अपमानजनक शब्दों से परहेज करने की सलाह दी। कौशिक ने उपस्थित सदस्यों से आह्वान किया कि हमें आज से ही राष्ट्रीय अध्यक्ष की ओर से दिए गए विधानसभा चुनाव में विजय के लक्ष्य को पूरा करने में जुट जाना है।
रविवार को हुई कार्यसमिति की बैठक में राजनीतिक प्रस्ताव मंत्री अजय चंद्राकर ने प्रस्तुत किया जिसका विधायक शिवरतन शर्मा ने समर्थन किया।
कार्यसमिति की बैठक में राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय, अनुसूचित जनजाति के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेता, केन्द्रीय मंत्री विष्णुदेव साय, मोर्चा-प्रकोष्ठ प्रभारी, रामप्रताप सिंह, महामंत्री संगठन पवन साय, महामंत्री गिरधर गुप्ता मौजूद थे। इसके अलावा संतोष पाण्डेय, डॉ. सुभाऊ कश्यप, मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, राजेश मूणत, केदार कश्यप, महेश गागड़ा, रमशिला साहू, रामसेवक पैकरा, भैय्यालाल रजवाड़े, सभी जिलाध्यक्षों सहित मोर्चा प्रकोष्ठ अध्यक्ष, कार्यसमिति के सदस्य व पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
मिशन 2018 क्या ब्रम्हास्त्र, जाने सीएम रमन की जुबानी...
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.