विधायक बृहस्पत सिंह आदिवासी समाज से माफी माँगे- इन्दर भगत

रामानुजगंज – बलरामपुर : जनजाति गौरव समाज छत्तीसगढ़ के प्रदेश प्रवक्ता इन्दर भगत ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर रामानुजगंज – बलरामपुर विधायक बृहस्पत सिंह की टिप्पणी “सरगुजा के अँगूठा छाप आदिवासी” पर कड़ा ऐतराज जताया है। उन्होनें टिप्पणी की आलोचना करते हुए कहा कि विधायक बृहस्पत सिंह आए दिन विवादित बयान देकर सुर्खियों में बने रहना चाहते हैं। इस बार उन्होंने सरगुजा के आदिवासी समाज को अपमानित करने का काम किया है, जिस पर सरगुजा के आदिवासी समाज को कड़ी आपत्ति है एवं समाज का बहुत बड़ा वर्ग मर्माहत महसूस कर रहा है।

आदिवासी बाहुल्य सरगुजा वनांचल क्षेत्र से अखिल भारतीय परीक्षाओं, राज्य प्रशासनिक सेवा, चिकित्सा, उच्च शिक्षा सहित अनेक क्षेत्रों में आदिवासी अपनी अप्रतिम उपलब्धियों से गौरवान्वित है एवं अपनी प्रभावी भागीदारी सुनिश्चित करता है। यही नहीं सामाजिक समरसता में अपने आदर्श कार्य-व्यवहार के माध्यम से नए – नए आयाम गढ़ रहा है ऐसे सृजनशील, प्रगतिशील, दूरदर्शी, समाज के बारे में क्षुद्र बयानबाजी समाज के गौरव को धूमिल करना ही होगा। वे आदिवासी समाज पर ओछी टिप्पणी कर स्वयं अपने ऊपर कई तरह के प्रश्नचिन्ह खड़े कर रहें हैं।

रामानुजगंज – बलरामपुर विधानसभा सीट जिसमें वे स्वयं विधायक हैं, आदिवासी वर्ग के लिए आरक्षित सीट है, जिसमें सबसे अधिक मतदाता आदिवासी हैं, उनके विश्वास की हत्या कर रहें है। विधायक जैसे सम्मानीय पद में बैठे व्यक्ति का इस प्रकार का बेतुका बयान आदिवासी समाज में स्थापित शांति – सौहाद्रपूर्ण वातावरण को बिगाड़ने का काम करेगा, जिसके जिम्मेदार स्वयं बृहस्पत सिंह होंगे। आदिवासी समाज से माफी माँगकर खेद व्यक्त करना उनकी सामजिक एवं नैतिक जिम्मेदारी बनती है। यही घटनाक्रम का सुखद पटाक्षेप होगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button