विधायक एवं कलेक्टर ने बाल मेला कार्यशाला में विद्यार्थियों को सफल होने के दिए टिप्स   

सकारात्मक सोच एवं मेहनत से मिलती है सफलता

मनराखन ठाकुर

महासमुंद।

शासकीय महाविद्यालय महाप्रभु वल्लाभाचार्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय, महासमुंद में यूनीसेफ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयुक्त तत्वधान में आज एक दिवसीय बाल मेला कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर महासमुंद विधायक विनोद चन्द्राकर, कलेक्टर सुनील कुमार जैन, पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय के कार्यक्रम समन्वयक डॉ नीता बाजपेयी, प्राचार्य डॉ. एस.के. चटर्जी, डॉ. मालती तिवारी, डॉ. ए.एल पटेल सहित प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थीगण बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

कार्यशाला को संबोधित करते हुए विधायक चन्द्राकर ने कहा कि विद्यार्थियों को एकाग्र होकर निरंतर लक्ष्य बनाकर चलना चाहिए। विद्यार्थियों में हमेशा आगे बढ़ने की जिज्ञासा होनी चाहिए ताकि वे हर क्षेत्र में सफल हो सके। कोई भी लक्ष्य असंभव नहीं होता, सफल होने के लिए उन्हें लगातार ईमानदारी पूर्वक मेहनत करना चाहिए जिससे वे अपने लक्ष्य को पा सके।

पढ़ाई जीवन से ही विद्यार्थियों को कुछ बनने, कुछ करने की चाह होनी चाहिए। कलेक्टर श्री सुनील कुमार जैन ने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि बचपन से ही सभी के मन में कुछ बनने का सपना होता है, इसे पूरा करने के लिए शिक्षा आवश्यक है।

पढ़ाई के साथ-साथ छात्रों को अपने हुनर के अनुसार भी कार्य करना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को प्रतियोगिता परीक्षाओं के बारे में भी जानकारी देते हुए कहा कि आज का युग प्रतिस्पर्धा का युग है, इसम सफलता पाने केे लिए कड़ी मेहनत की आवश्यकता है।

छात्र विभिन्न विषयों के बारे में सामूहिक चर्चा-परिचर्चा करें इससे प्रतियोगिता परीक्षाओं की अच्छी तैयारी की जा सकती है। कार्यक्रम में विद्यार्थियों ने भी कलेक्टर श्री जैन से उनके कैरियर से संबंधित प्रश्न किए और जवाब पाकर अपनी जिज्ञासाओं को पूरा किया।

 

1
Back to top button