मोदी और अमित शाह ने राज्य अध्यक्षों को सौंपे वाजपेयी के अस्थि कलश

अस्थि कलश लेकर धरमलाल कौशिक आज दोपहर पहुंचेंगे माना एयरपोर्ट

नई दिल्ली/रायपुर : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश को देश के विभिन्न राज्यों की 100 नदियों में प्रवाहित करने के लिए बीजेपी प्रदेश अध्यक्षों को बुधवार को सौंपा गया।

इस मौके पर पार्टी के पुराने दफ्तर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी पहुंचे। पीएम मोदी ने बीजेपी के राज्य और केंद्र शासित प्रदेश अध्यक्षों को पूर्व पीएम के अस्थि कलश सौंपे।

विदेशमंत्री ने सौंपा कौशिक को कलश

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के अस्थि कलश को विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक को दिल्ली में सौंपा।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल की गरिमामय उपस्थिति थी।भाजपा अध्यक्ष कौशिक अटल आस्था कलश को लेकर रायपुर के लिए रवाना हुए है।

इस दौरान राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय व शिक्षा मंत्री केदार कश्यप मौजूद थे।

भारत रत्न अटलजी की अस्थियों का कलश लेकर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक आज दोपहर दिल्ली से माना एयरपोर्ट पहुंचेंगे। जहां मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और उनके मंत्रिमंडल के सदस्य कलश को मौजूद रहेंगे और उसे एकात्म परिसर लेकर आएंगे।

कलश को एकात्म परिसर में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। इसके साथ ही प्रदेश के सभी जिलों के लिए अस्थि कलश रवाना किए जाएंगे। सभी जिलों व मंडलों में सर्वदलीय प्रार्थना सभा का आयोजन किया जा रहा है।

यह अस्थि कलश 23 अगस्त को दर्शनार्थ राजधानी के टाउन हॉल में प्रातः 9 से 11 बजे तक रखा जाएगा। उसके उपरांत अटल कलश यात्रा टाउनहाल से प्रारंभ होकर जयस्तंभ चौक, शारदा चौक, आजाद चौक, आमापारा चौक, होकर लाखेनगर पहुंचेगी।

वहां से बूढ़ेश्वर चौक, श्याम टॉकिज,बिजली ऑफिस चौक पचपेड़ी नाका, देवपुरी, शदाणी दरबार होते माना बस्ती से राजिम त्रिवेणी के लिए रवाना होगी। जहां शाम को अटलजी अस्थियों का विसर्जन किया जायेगा।

राजिम में चल रही तैयारी

उधर, राजिम में कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने त्रिवेणी संगम के पास आयोजित श्रद्धांजलि सभा के लिए मंच, पंडाल, बैरिकेटिंग, पेयजल और सभी जरूरी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

अग्रवाल ने कहा ध्यान रखें कि यह आयोजन शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न हो। किन-किन मार्गों से जिलों से अस्थि कलश लाई जाएंगी, यह तीनों जिले के अधिकारी चर्चा कर तय कर लें। जिन मार्गों से धमतरी, गरियाबंद तथा रायपुर से अस्थियां लाई जाएंगी।

कश्मीर में चिनाब, गोवा में मांडवी में विसर्जित होंगी अटल की अस्थियां

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां 26 अगस्त को तमिलनाडु में कावेरी नदी सहित छह जगहों पर प्रवाहित की जाएगी। तमिलनाडु के अलावा जम्मू-कश्मीर में भी पूर्व पीएम की अस्थियों का विसर्जन कराया जाएगा।

पूर्व पीएम की अस्थियों को जम्मू-कश्मीर की झेलम, चिनाब और तवी नदियों में विसर्जित किया जाएगा। गोवा में भी मांडवी नदी में वाजपेयी की अस्थियां सीएम मनोहर पर्रिकर प्रवाहित करेंगे।

गोदावरी ओर मुसी नदियों में भी प्रवाहित होंगी अस्थियां

तेलंगाना बीजेपी के मुताबिक अटल की अस्थियां राज्य में गोदावरी और मूसी नदियों में प्रवाहित की जाएंगी। प्रदेश पार्टी महासचिव चिंता संबा मूर्ति ने बताया कि अस्थियां तेलंगाना बीजेपी मुख्यालय लाई जाएंगी।

अस्थियां दिवंगत नेता को श्रद्धांजलि देने के लिए 23 अगस्त को पार्टी मुख्यालय में रखी जाएंगी। उसी दिन प्रदेश पार्टी अध्यक्ष के लक्ष्मण की अगुआई में एक टीम अस्थियां गोदावरी में विसर्जन के लिए निजामाबाद के समीप बसार ले जाएगी, जहां सरस्वती मंदिर है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय की अगुआई एक अन्य टीम मूसी नदी में विसर्जन के लिए अस्थियां अनंतगिरि ले जाएगी।

Back to top button