मोदी कैबिनेट में 20 से ज्यादा नए चेहरों को मिल सकती है जगह

नई दिल्ली : Lok Sabha Election 2019 में मिले प्रचंड बहुमत के बाद केंद्र की मोदी सरकार गुरुवार को अपने दूसरे कार्यकाल के लिए शपथ लेगी। इस बार जितनी चर्चा मोदी सुनामी की हो रही है, उससे कहीं ज्यादा चर्चा इस लहर पर सवार होकर लोकसभा पहुंचने वाले सांसदों और विशेषकर पहली बार लोकसभा पहुंचे सांसदों की हो रही है। भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए को इस बार लगभग हर राज्य से बंपर सीटें मिली हैं, लिहाजा हर कहीं से मंत्री बनाने की चर्चाएं भी चल रही हैं। ऐसे में एक अनुमान ये भी लगाया जा रहा है कि मोदी कैबिनेट में इस बार 20 से ज्यादा नए चेहरों को जगह मिल सकती है। जानतें हैं कौन से होंगे ये नए चेहरे और कौन-कौन है कैबिनेट की संभावित सूची में।

मोदी कैबिनेट में इस बार 50 से ज्यादा सांसदों को जगह मिलने का अनुमान है। इसमें छह नाम तो तय माने जा रहे हैं, लेकिन कुछ पुराने नामों पर संशय की स्थिति बनी हुई है। इन सबके बीच सबसे ज्यादा चर्चा है मोदी कैबिनेट में शामिल होने वाले 20 से ज्यादा नए चेहरों की। मालूम हो कि गुरुवार को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह से पहले भाजपा आला कमान की बैठकों का दौर जारी है। पार्टी अध्यक्ष अमित शाह व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित अन्य वरिष्ठ नेता कई दौर की बैठक कर चुके हैं। माना जा रहा है बैठकों का ये दौर कैबिनेट के स्वरूप को लेकर चल रहा है।

लंबे समय से बीमार चल रहे वरिष्ठ भाजपा नेता और राज्यसभा सदस्य अरुण जेटली इस बार मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होंगे। उन्होंने खुद ट्विटर के जरिए इसकी जानकारी दी है। मालूम हो कि स्वास्थ्य वजहों से अरुण जेटली इस बार के लोकसभा चुनाव में भी ज्यादा सक्रिय नहीं रहे थे। भाजपा को प्रचंड बहुमत मिलने के बाद 16वीं लोकसभा को भंग करने के लिए की गई सरकार की कैबिनेट बैठक में भी वह शामिल नहीं हो सके थे। ऐसे में सरकार को अब उनकी जगह नए वित्त मंत्री का चुनाव भी करना है।

मोदी कैबिनेट में इस वक्त जो संभावित नाम सामने आ रहे हैं, उससे अनुमान लगाया जा सकता है कि मंत्रिमंडल में यूपी, बिहार और गुजरात को विशेष तरजीह दी जाएगी। इन तीनों राज्यों से सबसे ज्यादा मंत्री बनने की उम्मीद है। इसके अलावा सरकार पूर्वोत्तर के राज्यों और आने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए भी बैलेंस बनाने का प्रयास करती नजर आ रही है।

Back to top button