राष्ट्रीय

केरल में एक गर्भवती हथिनी की निर्मम हत्या के मामले में मोदी सरकार सख्त

गर्भवती हथिनी को गांव वालों ने एक अनानास में पटाखे भरकर खिला दिए

नई दिल्ली: केरल के मलप्पुरम में भोजन की तलाश में एक गांव में आई एक गर्भवती हथिनी को गांव वालों ने एक अनानास में पटाखे भरकर खिला दिए। जब पटाखे फटे तो हथिनी के मुंह और जीभ बुरी तरह जख्मी हो गए और उसकी मौत हो गई।

इस मामले में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एक रिपोर्ट मांगी है। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, “पर्यावरण मंत्रालय ने केरल में एक हथिनी की मौत को गंभीरता से लिया है। घटना पर एक पूरी रिपोर्ट मांगी गई है। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, भारत की संस्कृति किसी जानवर को पटाखे खिलाने और मारने की नहीं है। केंद्र सरकार ने केरल से इस पूरे मामले पर गंभीर रुख अपनाते हुए रिपोर्ट भी मांगी है।केरल सरकार ने बुधवार (3 जून) को कहा कि पलक्कड जिले में एक गर्भवती हथनी की निर्मम हत्या मामले की जांच वन्यजीव अपराध जांच दल करेगा। हथनी ने साइलेंट वैली जंगल में पटाखों से भरा एक अनानास खा लिया था जो उसके मुंह में फट गया और करीब एक सप्ताह के बाद उसकी मौत हो गई।

घटना के बाद लोगों में रोष फैल गया और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि पलक्कड जिले के मन्नारकड़ वन मंडल में हथनी की मौत मामले में प्रारंभिक जांच शुरू कर दी गई है और पुलिस को घटना के जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।यह घटना मलप्पुरम की है, जहां एक गर्भवती हथिनी भोजन की तलाश में एक गांव में आ गई थी। लेकिन

Tags
Back to top button