मोदी सरकार ने 312 कर्मचारियों को लापरवाही बरतने को लेकर नौकरी से हटाया

सार्वजनिक हित को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ी कार्रवाई की

नई दिल्लीः सार्वजनिक हित को देखते हुए सत्यनिष्ठा की कमी और लापरवाही दिखाने के चलते केंद्र सरकार ने बड़ी कार्रवाई की है. कार्रवाई के अनुसार काम में लापरवाही बरतने को लेकर मोदी सरकार ने केंद्र सरकार के 312 कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया है.

इसमें कई सीनियर अधिकारी हैं, ज्वाइंट सेक्ट्रेरी रैंक के अधिकारियो को भी हटाया गया है. सरकार ने ग्रुप बी के 187 कर्मचारियों को हटाया गया है, ग्रुप ए के 125 अफसर जबरन रिटायर कर दिया है.

जुलाई 2014 से मई 2019 तक हुए इस रिव्यू में ग्रुप ए के कुल 36000 और ग्रुप बी के 82000 अफसरों को आंका गया. इनमें से ग्रुप ए के 125 और ग्रुप बी के 187 अधिकारियों की कार्यशैली सवालों के घेरे में रही.

Back to top button