छत्तीसगढ़

मोदी सरकार की स्वच्छ भारत योजना विवादों और घोटालों में : शैलेश नितिन त्रिवेदी

रायपुर : प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि मोदी सरकार की स्वच्छ भारत योजना छत्तीसगढ़ में विवादों और घोटालों से गिर चुकी है। गांव में पहले सबको शौचालय बनाने के आदेश दे दिए गए। जब शौचालय का निर्माण हो गया तो अब गांव वालों को जो अनुदान राशि मिलनी थी वह यह कहकर नहीं दी जा रही है कि 2010 के सर्वे सूची में जिनके नाम हैं उनको ही राशि दी जायेगी। बाकी को यह राशि नहीं दी जा सकती। अगर ऐसी कोई शर्त थी तो जब शौचालय निर्माण के आदेश जारी किए गये जब अनुदान देने की बात कही गई, उस समय इस बात को स्पष्ट कर देना था।

उस समय यह बात स्पष्ट नहीं की गई और अब ग्रामीण शौचालय बनाकर अनुदान राशि के लिये दर-दर भटक रहे है और परेशानी का सामना कर रहे हैं। उन्हें जो अनुदान राशि मिलनी है, वह नहीं दिया जा रहा है स्वच्छ भारत योजना के तहत प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गांव वालों को जो पैसा मिलना है वह नहीं मिल रहा है। केंद्र सरकार और राज्य सरकार के स्तर पर स्वच्छता अभियान की अनुदान राशि में भारी गड़बड़ी हो रही है। हितग्राही परेशान है, जो बिल्डिंग मटेरियल सप्लायर हैं इटें, गिट्टी, रेती वाले हितग्राहियों का चक्कर लगा रहे हैं और हितग्राही सरपंच के आसपास घूमने के लिए मजबूर हैं। सरपंच ब्लॉक ऑफिस के चक्कर काट रहे हैं। कुल मिलाकर बड़े पैमाने पर गरीबों का पैसा शौचालय, प्रधानमंत्री निर्माण में फंस चुका है।

कुष्ठ रोग से पीड़ितों के लिए उन्हें फोन की चप्पल देने के लिए जो 80 लाख रुपए की राशि आई थी एक भी कुष्ठ रोगी को चप्पल नहीं दी जा सके और वह पूरी राशि लेप्स हो गई है। जो प्रधानमंत्री मंच पर पादुक पहनाने का अभिनय करता है। उसी प्रधानमंत्री उसी मुख्यमंत्री की सरकार द्वारा कुष्ठ रोगियों को फोम की चप्पल पहनाने की बात तो दूर देने की भी जरूरत नहीं समझी गयी। इसके लिये आये 80 लाख रूपये लैप्स हो गया। कुष्ट रोगियों को जिन्हें आवश्यक है, जिन्हें यह चप्पल असली जरूरी होती है स्वास्थ्यगत कारणों से, जरूरी होती है, जो घायल है और जो सेंसेशन है उसके कारण उन्हें फोन की चरण पादुका पहनने की जरूरत होती है।

उनको चरण पादुका नहीं दी गयी। मंच पर देश के प्रधानमंत्री जांगला की सभा में सिर्फ दिखाने के लिये पादुका पहनायी जांगला में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभा की पृष्ठ भूमि में आंतरिक विवाद और खींचातान चलती रही, उसी के आधार पर इस तरीके की आधारहीन बात कर रहे होंगे।

रमन सिंह सरकार ग्राम सुराज चालू करने की बात कर रही है दूसरी और गांव में शौचालय निर्माण के लिए जो अनुदान मिलना है वह नहीं मिल रहा है प्रधानमंत्री आवास योजना की किस्त हितग्राहियों को नहीं मिल पा रही है। सुराज भाजपा के नेताओं के भाषण और अधिकारियों की उपस्थिति मात्र से नहीं आ जाता है, जमीनी धरातल पर आम आदमी को मिलने से आता है। अब छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने से ही सुराज आ जायेगा।

आज कांग्रेस की तैयारी बैठक बहुत ही सद्भाव शांति से संपन्न हुई है। राहुल गांधी जी का दौरा कांग्रेस जन मिल-जुलकर बहुत सफलतापूर्वक संपन्न कराएंगे। धरमलाल कौशिक जी अपनी पार्टी की चिंता करें। कांग्रेस की चिंता करना छोड़ दें। हम कांग्रेस जन कांग्रेस को आगे बढ़ाने के लिए सक्षम है। धरम लाल कौशिक कांग्रेस की चिंता छोड़ दे भाजपा की चिंता करें।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.