राष्ट्रीय

जोधपुर में मोदी बोले, कांग्रेस झूठ फैलाने वाली यूनिवर्सिटी

जोधपुर।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जोधपुर की मिठाइयों के साथ-साथ यहां की बोली भी मीठी है। यहां के लोगों की मिठास के कारण कोई नाराज हो ही नहीं सकता। इस धरती पर बिच्छू को भी बिच्छू जी बोलते हैं। इन कांग्रेस वालों को पता नहीं है कि आप जितना कीचड़ उछालोगे, कमल उतना ही खिलेगा। कांग्रेस के सपने हर राज्य में चूर-चूर हो गए हैं, यहां पर भी वही हाल होने वाला है।

सोमवार को जोधपुर में मोदी ने कहा कि झूठ फैलाने में कांग्रेस ऐसी यूनिवर्सिटी बन गई है, जहां प्रवेश करते ही झूठ की पीएचडी का अध्ययन शुरू हो जाता है और जो ज्यादा मार्क्स लेकर झूठ बोलने में पारंगत हो जाता है उसको पद और पदवी दी जाती है।

अगर कांग्रेस के लोग इस फिराक में होंगे कि झूठ बोलकर उनकी गाड़ी चल देगी तो मैं विश्वास से कहता हूं कि इनके सपने हिंदुस्तान के हर राज्य में चूर-चूर हो गए हैं, यहां पर भी वही हाल होने वाला है। ज्ञानी नामदार बताएंगे क्या कि जब सरदार वल्लभ भाई पटेल ने सोमनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण का संकल्प किया था, तब देश के पहले प्रधानमंत्री और आपके परिवार के पुराने महारथी ने सोमनाथ मंदिर के संबंध में क्या रुख अपनाया था।

इस मौके पर मोदी ने कहा कि कांग्रेस विकास में विश्वास नहीं करती है। कांग्रेस को पूरा विश्वास है कि इस बार राजस्थान में उनकी सरकार बनेगी। इसके पीछे तर्क देते हैं कि राजस्थान के लोग एक बार कांग्रेस को मौका देते हैं, एक बार भाजपा को मौका देते हैं। कांग्रेस के लोग भूल गए कि भैरों सिंह शेखावत को राजस्थान की जनता को दो बार मौका दिया था।

पीएम ने कहा कि अभी चुनाव में वो कह रहे हैं कि मोदी को कोई ज्ञान नहीं है। मोदी को ज्ञान है या नहीं, राजस्थान में इस मुद्दे पर वोट डालना है क्या। राजस्थान को बिजली, पानी सड़क के लिए वोट चाहिए की मोदी को हिंदू का ज्ञान है या नहीं उसपे वोट चाहिए। जब दुनिया को पर्यावरण क्या होता है पता नहीं था, तब राजस्थान के विश्नोई समाज ने पर्यावरण के लिए बलिदान दिया ।

मोदी ने कहा कि ये हिंदुत्व के ज्ञानी से मैं पूछना चाहता हूं, जब सरदार पटेल जी ने सोमनाथ मंदिर के पुनर्निर्माण का संकल्प लिया था तब देश के पहले प्रधानमंत्री ने सोमनाथ मंदिर के संबंध में क्या रुख अपनाया था ये पूरा देश जानता है।

दिल्ली में जब रिमोट कंट्रोल से सरकार चलाती थी तब कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में लिखित में कहा कि भगवान राम का कोई ऐतिहासिक प्रमाण नहीं है। क्या आप इस बात से सहमत हैं? अब ये मुझे पूछ रहे हैं कि मोदी को हिंदुत्व का ज्ञान है कि नहीं है।

अगर भारत ने शुरू से टूरिज्म पर बल दिया होता, भारत की जो विशेषताएं हैं, वो विशेषताएं अगर गर्व के साथ हमने दुनिया के सामने प्रस्तुत की होती तो हम विश्व में टूरिज्म नें नंबर एक पर होते। जब उनकी सरकार थी, तब हमारे देश में टूरिज्म का विकास 4-5 फीसद से ऊपर नहीं जाता था, आज मैं गर्व के साथ कहता हूं कि भारत में टूरिजिम का ग्रोथ 10-15 फीसद पर पहुंच गया है।

इन्होंने गांधी जी के स्वच्छता के सपने को चूर-चूर किया, उन्होंने गांधी जी को भुला दिया क्योंकि उनको मालूम था कि ये फकीर गांधी लोगों को याद रहेंगे तो ये नामदार गांधी को कौन याद रखेगा।

इन्होंने कांग्रेस नाम का एक ताबीज बनवाकर रखा और जो गलत काम करते हैं, बुरा काम करते हैं, सरकारी खजाने से लूट चलाते हैं, बैंकों से पैसे मार लेते हैं उनको कुछ करने की जरूरत नहीं वे कांग्रेस का ताबीज बांध लेते थे और उनको एक रक्षा कवच मिल जाता था।

Summary
Review Date
Reviewed Item
जोधपुर में मोदी बोले, कांग्रेस झूठ फैलाने वाली यूनिवर्सिटी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags