तेलंगाना में बोले मोदी: जनता के सपनों से खिलवाड़ का हक किसी को नहीं

निजामाबाद की चुनावी रैली में मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव पर हमला

निजामाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चुनावी सभाओं को संबोधित करने तेलंगाना पहुंचे। उन्होंने राज्य में निजामाबाद में रैली को संबोधित किया। उन्होंने चुनावी रैली को संबोधित करते हुए विपक्षियों पर कड़े प्रहार किए। उनके निशाने पर टीआरएस और कांग्रेस दोनों ही दल थे।

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव पर कांग्रेस की तरह काम करने का आरोप लगाया और कहा कि मुख्यमंत्री का सोचना है कि अगर कांग्रेस बिना काम किए जीत सकती है, तो वे भी जीत जाएंगे, लेकिन अब देश की कोई भी पार्टी 50 महीने भी कुछ बिना फिर से चुनाव नहीं जीत सकती है।

पीएम मोदी ने कहा, तेलंगाना अनेक वर्षों के संघर्ष और अनेक नौजवानों के बलिदान से बना है। इसीलिए यहां की सरकार को उस बलिदान को बर्बाद करने का कोई अधिकार नहीं है। तेलंगाना की जनता ने जो सपने देखे थे, उन सपनों पर जरा सा भी खिलवाड़ करने का हक, यहां के किसी भी राजनेता, दल और सरकार को नहीं है।

जिनका विकास में विश्वास है, जिनका नया तेलंगाना बनाने में विश्वास है, जिनका नया भारत बनाने में विश्वास है, ये विकास में विश्वास रखने वाले लोग आज भारतीय जनता पार्टी पर अधिकतम विश्वास रखकर देश को आगे ले जाने के लिए कंधे से कंधा मिलाकर चल रहे हैं।’

>हर जगह गजब उत्साह

रैली में जुटी भारी भीड़ और उत्साह को देखते हुए पीएम मोदी ने कहा, पांच राज्यों में चुनाव चल रहे हैं, अब तक मुझे चार राज्यों में जाने का अवसर मिला है। मुझे जहां-जहां जाने का अवसर मिला है, ऐसा ही उत्साह देखने को मिला है।

उन्होंने ने अपने भाषण की शुरुआत स्थानीय खिलाड़ी मुहम्मद हुसैनुद्दीन को बधाई देते हुए की। उन्होंने कहा ये हमारे देश की युवा शक्ति की पहचान है, हमारे न्यू इंडिया की पहचान है। भारत के नए आत्मविश्वास का रणटंकार है।

तेलंगाना में 8 महीने पहले भंग हुई है विधानसभा

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने सितम्बर 6 को तेलंगाना के गर्वनर को विधानसभा को भंग करने की सिफारिश की थी।जिसको उन्होंने स्वीकार कर लिया था। इस तरह तेलंगाना में तयशुदा समय से करीब आठ महीने पहले विधानसभा को भंग कर दिया था।

भाजपा अकेले लड़ रही है चुनाव

बता दें कि तेलंगाना में विधानसभा की सभी 119 सीटों पर 7 दिसंबर को वोटिंग होगी। वोटिंग की गिनती 11 दिसंबर को होगी। तेलंगाना में बीजेपी अकेले चुनाव मैदान में उतरी है। कांग्रेस, तेलुगुदेशम पार्टी और तेलंगाना जन समिति गठबन्धन के तौर पर चुनाव में उतरी है।<>

1
Back to top button