राष्ट्रीय

महिला सांसद पर भड़के मोदी, डिलीट करने को कहा रिकॉर्डिंग

पहले भी विवादों में घिर चुकी है महिला सांसद

नई दिल्ली : पीएम मोदी हाल ही में भाजपा के तमाम सांसदों की बैठक में उस वक्त भड़क गए जब एक बीजेपी महिला सांसद पीएम मोदी के भाषण को अपने मोबाइल पर रिकॉर्डिंग करने लगी.

दरअसल आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर तमाम लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों की बैठक चल रही थी, जिसमे तकरीबन 250 सांसद मौजूद थे। इस दौरान पीएम मोदी, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, लालकृष्ण आडवाणी मंच पर बैठे थे, इसी दौरान जब पीएम की नजर महिला सांसद पर पड़ी तो वह भड़क गए।

नाराज हुए पीएम
पीएम ने देखा कि उत्तर प्रदेश के बाराबंकी से भाजपा सांसद प्रियंका रावत मोबाइल फोन पर बैठक की रिकॉर्डिंग कर रही हैं, जिसके बाद पीएम ने तुरंत फोन की रिकॉर्डिंग बंद करके फोन स्विच ऑफ करने को कहा।

लेकिन पीएम इतने पर भी संतुष्ट नहीं हुए, उन्होंने महिला सांसद से रिकॉर्डिंग को डिलीट करने को कहा, यही नहीं पार्टी के कार्यकारिणी के एक सदस्य को जिम्मेदारी दी गई कि वह यह सुनिश्चित करें कि मोबाइल फोन में रिकॉर्डिग ना बची हो।

गोपनीयता

जिस तरह से पिछले कुछ समय में भाजपा की लोकप्रियता में कमी आई है, उसे देखते हुए भाजपा लगातार इस कोशिश में जुटी है कि पार्टी की आधार को एक बार फिर से मजबूत किया जाए और लोगों की बीच अपनी बैठ को बढ़ाया जाए।

पार्टी इसके लिए तमाम योजनाएं बना रही है और वह कतई यह नहीं चाहती है कि उसकी योजना की गोपनीयता भंग हो, लिहाजा पार्टी अपनी योजना को पूरी तरह से गोपनीय रखना चाहती है।

विवादों में थीं महिला सांसद

गौर करने वाली बात यह है कि प्रियंका रावत उस वक्त सुर्खियों में थीं जब उन्होंने एक ट्रेनी आईएएस अधिकारी को धमकाया था और उनका वीडियो सामने आ गया था।

वीडियो में देखा जा सकता है कि वह कहती हैं कि मैं तुम्हारा जीना मुश्किल कर दूंगी अगर मेरे कार्यकर्ताओं को कोई दिक्कत हुई। जिसके बाद उन्हें काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी।

Tags
Back to top button