केरल में बाढ़ से त्रस्त राज्यों का जायजा लेने आज शाम को मोदी होंगे रवाना

मदुरई कॉर्पोरेशन ने 20 लाख की राहत सामग्री केरल भेजी है।

नई दिल्ली : केरल में भारी बारिश की वजह से वहां की हालत अब भी बदतर बनी हुई है। अब तक बारिश और बाढ़ की वजह से 97 लोगों की मौत हो चुकी है। कोच्चि एयरपोर्ट पानी से भरा हुआ है। इसी वजह से उसे 26 अगस्त तक के लिए बंद कर दिया गया है।

इरनाकुलम प्रशासन का कहना है कि वह हेलिकॉप्टर के जरिए कलाडी के मंजलि में खाने के 1500 पैकेट सप्लाई कर चुका है। 7500 से ज्यादा पैकेट्स तुरंत भेजे गए हैं और शाम तक 20,000 और पैकेट भेजे जाएंगे। मदुरई कॉर्पोरेशन ने 20 लाख की राहत सामग्री केरल भेजी है।

इसी बीच बाढ़ से त्रस्त राज्य के हालातों का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम पहुंचेंगे। मोदी ने ट्वीट करते हुए बताया कि केरल में बाढ़ की वजह से बने दुर्भाग्यपूर्ण हालात का जायजा लेने के लिए वह आज शाम तक केरल पहुंच जाएंगे।

उन्होंने आज सुबह केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन से बात की। मोदी ने कहा, ‘हमने राज्यभर में बने बाढ़ के हालात पर चर्चा की और बचाव अभियान का जायजा लिया।’ प्रधानमंत्री बीते दो दिन से विजयन के संपर्क में बने हुए हैं।

बता दें कि गुरूवार को भारी बारिश के कारण आई बाढ़ और भूस्खलन के कारण 30 लोगों की मौत हो गई। इसके अलावा त्रिशूर, कन्नूर और कोझिकोड़ में भी भूस्खलन होने की भी खबर है। 8 अगस्त से हो रही बारिश में अब तक कुल 97 लोगों की जान जा चुकी है।

इसमें 55 मौतें केवल पिछले दो दिनों में हुई हैं। हालांकि मुख्यमंत्री विजयन का कहना है कि बाढ़ से मरने वालो की संख्या 167 हो गई है। केरल के कई जिलों में बाढ़ से स्थिति भयावह हो चुकी है।

पथानामथिट्टा जिले के रन्नी में बाढ़ में फंसे 20 लोगों को एयरफोर्स के हेलीकॉप्टर से एयरलिफ्ट कर तिरुवनंतपुरम लाया गया है। 14 जिलों में हाई अलर्ट जारी है और अब तक 1.5 लाख लोगों को राहत शिविरों में ले जाया गया है।

Tags
Back to top button