पहले चरण के चुनाव के दिन ही रिलीज होगी मोदी की फिल्म

SC ने रोक लगने से किया इंकार

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ (PM Narendra Modi) पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। अब यह फिल्म प्रथम चरण के चुनाव की तारीख 11 अप्रैल को ही रिलीज होगी।

कोर्ट ने याचिकाकर्ता अमन पंवार की तरफ से दायर याचिका पर कहा कि अगर यह फिल्म चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है, तो यह देखना चुनाव आयोग का काम है। यदि फिल्म के कंटेट को लेकर कोई आपत्ति है, तो यह देखना CBFC का काम है। सुप्रीम कोर्ट फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगा सकता है।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगाते हुए सोमवार को याचिकाकर्ता अमन पंवार से कहा था कि पहले वह स्पष्ट करें कि फिल्म में क्या दिखाया गया है और उन्हें किस बात पर आपत्ति है? मामले पर जस्टिस एसए बोबड़े की अध्यक्षता वाली पीठ ने याचिकाकर्ता से पूछा कि आप फिल्म देखे बिना कैसे निर्धारित कर सकते हैं कि ये आचार संहिता का उल्लंघन करता है?

इसके साथ ही मामले की अगली सुनवाई के लिए 9 अप्रैल की तारीख घोषित की थी। बताते चलें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी इस फिल्म को 5 अप्रैल को रिलीज किया जाना था। मगर, कई लोगों ने यह कहते हुए रिलीज पर रोक लगाने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था कि इससे चुनाव पर असर पड़ सकता है।

एक अप्रैल को दिल्ली हाईकोर्ट और दो अप्रैल को बॉम्बे हाईकोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका को खारिज कर दिया था। इसके बाद याचिकाकर्ता अमन ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था।

बताते चलें कि याचिका में कहा गया था कि फिल्म लोकसभा चुनावों के शुरू होने से पहले ही रिलीज की जा रही है, लिहाजा यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। याचिका में यह भी कहा गया कि चुनावों से पहले इस फिल्म को रिलीज किए जाने के कारण यह वोटर्स को प्रभावित कर सकती है।

Back to top button