प्रेग्नेंसी का पल होता है महिला के लिए खास, पति ऐसे रखे अपनी पत्नी का ध्यान

उसके चिड़चिड़पन और जरूरत की हर चीज का वह ख्याल रख सके।

प्रेग्नेंसी का पीरियड हर महिला के लिए बहुत खास होता है। इस समय उसे खास देखभाल की जरूरत होती है ताकि हार्मोन्स के कारण शरीर में आए मानसिक और शारीरिक बदलाव का आसानी से सामना किया जा सके।

ऐसे में उसके पति को प्रेग्नेंसी से जुड़ी कुछ खास बातों की जानकारी होना बहुत जरूरी है ताकि उसके चिड़चिड़पन और जरूरत की हर चीज का वह ख्याल रख सके।

आइए जानें कुछ बातें जो प्रेग्‍नेंट महिला के पति के लिए समझना बेहद जरूरी है।

मूड स्विंग्स होना

इस पीरियड में महिला अगर किसी बात को लेकर परेशान है या फिर जरूरक से ज्यादा रिएक्ट कर रही है तो परेशान न हो। इस समय मूड स्विंग होना आम बात है।

प्रेग्नेंसी में महिला में न शारीरिक के साथ-साथ मानसिक तनाव आना सामान्य बात है ऐसे में पति को पत्नी की स्थिति समझ कर उसका साथ देना चाहिए।

खान-पान की पसंद में बदलाव

प्रेग्नेंसी में महिला के खान-पान की आदत में भी बदलाव आ जाता है। हो सकता है उसे जो खाने की चीजे पहले पसंद हो अब वह उसे अच्छी न लगे।

ऐसा भी हो सकता है कि जो वह न खाती हो गर्भावस्था में वह खाना शुरू कर दे। पति को उसकी बदलती पसंद के कारण परेशान नहीं होना चाहिए बल्कि उनकी पसंद नापसंद का ध्‍यान रखना चाहिए।

थकावट महसूस होना

महिला के गर्भ में पल रहे बच्चे का भार जब बढ़ने लगता है तो पेट का भार संभालने में उसे परेशानी होती है। वह थका-थका महसूस करने लगती है।

ऐसे में उसे बहुत जल्दी थकावट महसूस होती है जिसे दूर करने के लिए इसे आराम की जरूरत पड़ती है लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं कि वह आलसी हो गई है।

आपकी उसकी शारीरिक स्थिति के बारे में समझना चाहिए और काम में हाथ बटाना चाहिए।

पैरों की मसाज जरूरी

जिस तरह से महिला की डिलीवरी का समय करीब आता जाता है उसके वजन में भी बदलाव आने लगता है। उसे पैरों पर शरीर का पूरा भार पड़ने के कारण पैरों में दर्द और सूजन होने लगती है।

इससे आराम पाने के लिए उसे मसाज की जरूरत होती है। पति उसके पैरों की धीरे-धीरे मसाज कर सकता है। वह अच्छा महसूस करेगी।

 

1
Back to top button