मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक आज से शुरू, 0.25 फीसदी बढ़ सकता है रेपो रेट

इससे आपके होम लोन, ऑटो लोन समेत सभी तरह के लोन की ईएमआई और बढ़ सकती है

नई दिल्ली। रिजर्व बैक जल्द एक बड़ा फैसला करने जा रहा है। वह आगामी मॉनिटरी पॉलिसी की समीक्षा में रेपो रेट 0.25 फीसदी बढ़ा सकता है।

रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति 2018-19 के चौथे द्वैमासिक समीक्षा की तीन दिवसीय बैठक की शुरुआत आज से हो चुकी है।

मौद्रिक नीति समीक्षा की घोषणा पांच अक्टूबर को की जाएगी। इससे आपके होम लोन, ऑटो लोन समेत सभी तरह के लोन की ईएमआई और बढ़ सकती है।

रिजर्व बैक ने ये फैसला कच्चे तेल में तेजी तथा रुपए में गिरावट के कारण मुद्रास्फीति बढ़ने की वजह से ली।

लगातार दो बार वृद्धि के बाद अभी रेपो दर 6.50 फीसदी है। विशेषज्ञों का मानना है कि कमजोर रुपया भी रिजर्व बैंक को रेपो दर बढ़ाने के लिए प्रेरित कर सकता है।

एचडीएफसी के उपाध्यक्ष तथा मुख्य कार्यकारी के मिस्त्री ने कहा, ‘मुद्रा के मौजूदा स्तर को देखते हुए मेरा मानना है कि वे ब्याज दर में 0.25 फीसदी की वृद्धि करेंगे।

गौरतलब है कि रुपया लगातार कमजोर हुआ है और यह 73 रुपए प्रति डॉलर के स्तर से नीचे गिर गया

Back to top button