छत्तीसगढ़

कृषक के खाते से राशि का बंदरबांट,नहीं है कृषक को जानकारी

कृषक द्वारा शिकायत पर कार्यवाही नही होने पर प्रबंधन पर शक हुआ जिसके बाद कृषक द्वारा इसकी शिकायत थाना पांडतराई में की गई

हिमांशु सिंह ठाकुर :- ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा : कबीरधाम जिले के पांडातराई थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम मड़मड़ा निवासी कुँवर सिंह ठाकुर पिता गुनिराम ठाकुर के कृषक खाते से राशि बंदरबांट किये जाने का मामला सामने आया है जहां कृषक के द्वारा मडमड़ा सोसायटी में स्वयं का खाता खोलवाया गया था जिसमे शाखा प्रबंधन द्वारा कुँवर सिंह ठाकुर के खाते में एटीएम जारी किया गया जिसका एटीएम ग्राम मडमड़ा निवासी कुँवर सिंह निर्मलकर पिता मनराखन निर्मलकर सोसायटी में कर्मचारी के पद पर पदस्थ है जिसके द्वारा एटीएम को रख कर लगभग 5 बार आहरण किया गया

जिसकी लिखित शिकायत कुँवर सिंह ठाकुर के द्वारा सहायक प्रबंधन रमेश कुमार वर्मा के पास दिनांक – 28-11-2020 को किये जाने पर उनके द्वारा टाल मटोल जवाब दिया जा रहा था लगातार कृषक द्वारा शिकायत पर कार्यवाही नही होने पर प्रबंधन पर शक हुआ जिसके बाद कृषक द्वारा इसकी शिकायत थाना पांडतराई में की गई जिस पर अब तक कोई भी कार्यवाही पुलिस प्रशासन द्वारा नही की गई

इससे साफ तौर पर जाहिर होता है कही न कही पुलिस विभाग भी शाखा प्रबंधन से मिलीभगत कर दोषी अधिकारी को बचाने का प्रयास कर रहे है ग्रामीण कुँवर सिंह ठाकुर के द्वारा बताया गया कि लगातर शिकायत के बावजूद भी कोई कार्यवाही नही की जा रही है उन्होंने पुलिस प्रशासन से न्याय की गुहार लगाई है और कहा कि अगर जल्द से जल्द दोषी अधिकारी और कुँवर सिंह निर्मलकर पर त्वरित कार्यवाही नही की जाती है तो आगे की कार्यवाही के लिए मैं बाध्य होंगा

लिखित सूचना दिए बगैर मेरे एटीएम बंद

वही कृषक कुँवर सिंह ठाकुर द्वारा पूछे जाने पर बताया गया कि मेरे द्वारा खड़ौदा कला बैंक में कृषक अकाउंट खोलवाया गया था जिसमे ग्रामीण कुँवर निर्मलकर द्वारा मेरे ही एटीएम से राशि निकाल कर गबन कर दिया गया जिसकी जानकारी मेरे मोबाईल नंबर में सूचना मिलने के बाद हुई तो तत्काल मैने इसकी सूचना पास के पुलिस थाना व बैंक में दी परंतु प्रबंधन द्वारा गड़बड़ी करते हुए मेरे बिना सहमति व लिखित सूचना दिए बगैर मेरे एटीएम को बंद कर दिया गया जिसकी मुझे बिना सूचना के ही कार्ड को बंद कर दिया गया है ग्रामीण द्वारा जल्द से जल्द दोषी अधिकारी व कुँवर निर्मलकर पर कार्यवाही करने प्रशासन से निवेदन किया गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button