छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र आज से शुरू

कोरोना प्रोटोकॉल पर रहेगी सख्ती, वैक्सीनेशन बिना प्रवेश नहीं

रायपुर:छत्तीसगढ़ की पांचवी विधान सभा का ग्यारहवां सत्र सोमवार 26 जुलाई से शुरू हो कर 30 जुलाई तक चलेगा। प्रमुख सचिव की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में सत्र की जानकारी दी गई। तीन महीने के अंतराल के बाद सरकार का सामना विधायकों के सवालों से होगा।

इससे पहले सदन मार्च से अब तक दिवंगत हुए नेताओं को श्रद्धांजलि देगी। बताया जा रहा है कि प्रमुख विपक्षी दल भाजपा आज पहले ही दिन प्रदेश में खाद-बीज की कमी पर काम रोक कर चर्चा कराने का प्रस्ताव ला सकती है।

सदन में पूर्व विधायक गुलाब सिंह, सोमप्रकाश गिरी, बालाराम वर्मा, पूर्व सांसद करुणा शुक्ला, विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष बद्रीधर दीवान, पूर्व मंत्री डॉ. शक्राजीत नायक, पूर्व सांसद रामाधार कश्यप, खेलनराम जांगड़े और पूर्व विधायक बलराम सिंह बैस के निधन का उल्लेख होगा। विधानसभा की परंपरा है कि श्रद्धांजलि के बाद सदन की कार्यवाही पांच मिनट के लिए रोक दी जाती है।

बताया जा रहा है कि इसके बाद प्रश्नकाल शुरू होगा, लेकिन विपक्ष ने सरकार को खाद-बीज के मुद्दे पर घेरने का मन बनाया है। ऐसे में प्रश्नकाल में ही स्थगन की मांग आ सकती है। प्रश्नकाल में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, वन मंत्री मोहम्मद अकबर और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्र कुमार विधायकों के सवालों का जवाब देंगे। पांच दिनों के सत्र के लिए कुल 717 सवाल लगाए गए हैं। इसमें 375 तारांकित तथा 342 अतारांकित प्रश्न हैं।

फरवरी-मार्च में था बजट सत्र

विधानसभा का पिछला यानी बजट सत्र 22 फरवरी से 9 मार्च तक चला था। इसमें अधिकतर दिन हंगामा होता रहा। एकाधिक बार अप्रिय स्थिति भी बनी। इस सत्र में सरकार ने वार्षिक बजट के अलावा कई महत्वपूर्ण विधेयकों को भी पारित कराया था।

कोरोना प्रोटोकॉल पर रहेगी सख्ती, वैक्सीनेशन बिना प्रवेश नहीं

पिछले सत्र की तुलना में इस सत्र में कोविड संक्रमण को ध्यान में रखते हुए कड़ाई बरती जाएगी। इस बार वैक्सीन नहीं लगवाने वाले किसी भी व्यक्ति को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। विधानसभा की ओर से बताया गया, 13 मंत्रियों में से 10 ने वैक्सीन के दोनों डोज जबकि तीन मंत्रियों ने एक-एक डोज लगवा लिया है। इसी तरह विधायकों में 54 ने दोनो डोज जबकि 19 विधायक वैक्सीन का एक डोज लगवा चुके हैं। एक विधायक ने कोरोना संक्रमित होने की वजह से वैक्सीन नहीं लिया है।

विधायक दल की बैठक में बनी रणनीति

कांग्रेस विधायक दल की बैठक रविवार रात मुख्यमंत्री निवास में हुई। इसमें सरकार के हाल ही में लिए गए फैसलों और उसके प्रभाव की जानकारी दी गई। मुख्यमंत्री ने सभी विधायकों से कहा, सरकार लोगों के लिए बेहतर काम कर रही है। विधानसभा में चर्चा के दौरान विपक्ष के हमलों का आक्रामक जवाब देने की रणनीति बनी है। भाजपा विधायक दल की बैठक आज होगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button