“मोर मितान मोर संगवारी” 23 पुरुषों का नसबंदी किया गया

छत्तीसगढ़ शासन के "मोर मितान मोर संगवारी" कार्यक्रम के तहत पुरुष नसबंदी पखवाड़ा में 03 दिसम्बर को 23 पुरुषों का नसबंदी शासकीय चिकित्सालय आरंग में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाँ. मीरा बघेल के मार्गदर्शन में किया गया।

दीपक वर्मा

आरंग। छत्तीसगढ़ शासन के “मोर मितान मोर संगवारी” कार्यक्रम के तहत पुरुष नसबंदी पखवाड़ा में 03 दिसम्बर को 23 पुरुषों का नसबंदी शासकीय चिकित्सालय आरंग में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाँ. मीरा बघेल के मार्गदर्शन में किया गया।

नसबंदी पखवाड़ा में ग्राम कोरासी,भंडारपुरी,चोरहाडीह,अछोली,खोरसी,परसवानी,लांजा, सेजा, देवदा, कठिया,पिरदा, घोरभट्टी के 23 पुरुष में जितेंद्र धीवर,दिलीप धीवर,जागेश्वर धीवर,लक्ष्मीकांत पटेल,नरेंद्र यादव,इंद्र पटेल,राज यादव,

बुधऊ सतनामी,नन्द साहू,कृष्ण कुमार वर्मा,कलेंद्र साहू,उमेन्द्र कोसले, घमश्याम साहू,रूपेंद्र सतनामी,लीलाराम पारधी,दीपकर,दयानंद साहू,नंदु सतनामी,पुनेश कुमार,नोहर यादव,कृष्ण कुमार,रूपेशरण सम्मिलित है।
नसबंदी के बाद ग्रामीणों ने बताया कि पुरुष नसबंदी सहज व सरल है इसमें कोई तकलीफ नही है। महिलाओ के नसबंदी में महिलाओं को स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना पड़ता है और घरेलू कार्य भी प्रभावित होता है।

सभी पुरुष संगवारी से अनुरोध है कि पुरुष नसबंदी में जागरूकता लावे। स्वास्थ्य कार्यकता ने बताया कि पुरुष नसबंदी के प्रचार-प्रसार लिये खेतो में जाकर पुरुषों से लगातार बातचीत करने पर तैयार हुये।।

पुरुष नसबंदी शिविर में डॉ एस के राय बी एम ओ, डाँ ए के टोडर, डाँ जी पी चंद्राकर ,डाँ टी एल तोडर का प्रमुख भूमिका के साथ सहयोगी स्वास्थ्य कार्यकताओं में दीपक मीरे,महेश चंद्राकर, अश्वनी साहू,विष्णु बंजारे,संजय चंद्राकर, ललित साहू, मनीष चंद्राकर, सविता साहू, पुष्पा चंद्राकर, लक्षवंतीन कोसले का सहयोग रहा।

Back to top button