घाटी में 270 से ज्यादा आतंकी घुसपैठ की फिराक में : सेना

जम्मू :

जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद भारतीय सेना ने एक बार फिर आतंकियों के खिलाफ अभियान तेज कर दिया है। इस बार सेना के निशाने में 300 आतंकी है। वहीं दूसरी और आतंकी सीमा पर लगातार घुसपैठ करने का प्रयास कर रहे हैं। जम्मू कश्मीर में करीब 250-275 आतंकी घुसपैठ करने की फिराक में हैं। यह जानकारी श्रीनगर स्थित 15 कॉर्प्स के कमांडर के लेफ्टिनेंट जनरल ऐके भट्ट ने दी है। उनके अनुसार उत्तर कश्मीर में दक्षिण कश्मीर के मुकाबले काफी कम आतंकी हैं।

सेना जवाब देने को तैयार

लेफ्टिनेंट जनरल ने कहा कि पाकिस्तान के लॉन्चिंग पैड से करीब 200 आतंकी घुसपैठ की कोशिश में है। सुरक्षा बलों को इसके लिए मुस्तैद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सोशल मीडिया के जरिए जम्मू-कश्मीर में दुष्प्रचार की कोशिश कर रहा है। भट्ट ने बताया कि आतंकियों के सफाये के लिए हमारा ऑपरेशन ऑल आउट जारी है। इसमें जम्मू-कश्मीर पुलिस की मदद के अलावा एनएसजी कमांडरों की भी मदद ली जा रही है। हमारी प्राथमिकता घाटी में शांति कायम करना है।

ऑपरेशन ऑलआउट शुरू

बता दें कि सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में ऑपरेशन ऑलआउट पार्ट-2 शुरू कर दिया है। राज्य में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद सुरक्षा बलों ने पहले ही ऑपरेशन में आईएसजेके के चार आतंकियों को मुठभेड़ में मार गिराया।

सेना ने जम्मू-कश्मीर में सक्रिय टॉप-21 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की है। सेना का मानना है कि इन 21 आतंकियों को मार गिराया गया तो जम्मू-कश्मीर में आतंक की कमर टूट जाएगी। इनमें 11 आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन के, 7 लश्कर-ए-तैयबा, 2 जैश-ए-मोहम्मद और एक आतंकी अंसार गाजवत उल-हिंद (एजीएच) के हैं।

Back to top button