सिर्फ़ 18 गेंदों में 36 रन बनाकर मॉरिस ने दिलाया राजस्थान को जीत

राजस्थान की टीम ने दिल्ली कैपिटल्स को तीन विकेट से हराया

नई दिल्ली: मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए रोमांचक मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स ने तीन विकेट से बाजी अपने नाम कर ली है. राजस्थान की टीम ने मुंबई में खेले गए रोमांचक मुक़ाबले में दिल्ली कैपिटल्स को तीन विकेट से हरा दिया.

जयदेव उनादकट की शानदार गेंदबाजी के बाद डेविड मिलर के अर्धशतक और क्रिस मोरिस की तूफानी बल्लेबाजी के दम पर राजस्थान ने दो गेंद शेष रहते 148 रन का लक्ष्य हासिल कर लिया. छक्का जमाकर राजस्थान को जीत दिलाने वाले मॉरिस सिर्फ़ 18 गेंदों में 36 रन बनाकर नाबाद रहे. उन्होंने चार छक्के जमाए.

मॉरिस की इस पारी ने राजस्थान के फैन्स को किंग्स इलेवन पंजाब के ख़िलाफ़ पिछले मैच की याद दिला दी. जहां कप्तान संजू सैमसन ने पांचवीं गेंद पर मॉरिस को स्ट्राइक देने से इनकार कर दिया था और राजस्थान की टीम मैच हार गई थी. मॉरिस ने गुरुवार को वो कसक दूर कर ली.

राजस्थान के लिए डेविड मिलर ने 43 गेंदों में 62 रन बनाए और मैच के टॉप स्कोरर रहे. राजस्थान ने दो गेंद बाकी रहते जीत हासिल की.

जीत के लिए 148 रन का पीछा कर रही राजस्थान रॉयल्स की शुरुआत ख़राब रही. राजस्थान को तीसरे ओवर में क्रिस वोक्स ने पहला झटका दिया. उन्होंने मनन वोहरा को आउट किया. वोहरा ने नौ रन बनाए. दो गेंद बाद उन्होंने दूसरे ओपनर जोस बटलर को कप्तान ऋषभ पंत के हाथों कैच करा दिया. वो सिर्फ़ दो रन बना सके.

अगले ओवर में कगिसो रबाडा ने राजस्थान के कप्तान संजू सैमसन को आउट कर दिया. वो तीन गेंद तक क्रीज पर रूके और सिर्फ़ चार रन बना सके. तीसरा विकेट गिरा तो राजस्थान का स्कोर था 17 रन. शिवम दुबे भी बड़ी पारी नहीं खेल सके और आठवें ओवर में अवेश ख़ान का शिकार बने. उन्होंने दो रन बनाए. दसवें ओवर में रियान पराग भी डग आउट में लौट गए. वो ख़ान का शिकार बने और सिर्फ़ दो रन बना सके.

10वें ओवर में ख़ान की गेंद पर दो चौके जड़ने वाले डेविड मिलर अकेले बल्लेबाज़ थे जो लय में दिख रहे थे. 10 ओवर के बाद राजस्थान का स्कोर था पांच विकेट पर 52 रन और आखिरी दस ओवर में जीत के लिए 96 रन की जरूरत थी.

मिलर ने राहुल तेवतिया के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 48 रन जोड़े. इस दौरान 13वें ओवर में मिलर ने मार्कस स्टोइनस की गेंद पर लगातार तीन चौके जमाए. ठीक अगले ओवर में तेवतिया ने टॉम करन की गेंद पर दो चौके जड़े. 15वें ओवर में रबाडा ने तेवतिया की पारी पर ब्रेक लगाया. वो 19 रन बनाकर आउट हुए.

अगले ओवर में मिलर ने अपनी हाफ सेंचुरी पूरी और फिर ख़ान की गेंद पर लगातार दो छक्के जड़े. ओवर की पांचवीं गेंद पर वो आउट हो गए. मिलर ने 43 गेंदों पर 62 रन बनाए. मिलर आउट हुए तो राजस्थान का स्कोर था सात विकेट पर 104 रन और टीम को जीत के लिए 44 रन की जरूरत थी.

इसके बाद क्रिस मोरिस और जयदेव उनदकट ने मोर्चा संभाला. आखिरी दो ओवर में राजस्थान को जीत के लिए 27 रन चाहिए थे. 19वें ओवर की पहली और पांचवीं गेंद पर मोरिस ने छक्का जमाया. रबाडा के इस ओवर में कुल 14 रन बने. आखिरी ओवर में राजस्थान को आखिरी ओवर में जीत के लिए 12 रन बनाने थे.

आखिरी ओवर में गेंद टॉम करन के हाथ थी. पहली गेंद पर मोरिस ने दो रन लिए और दूसरी गेंद पर छक्का जड़ दिया. अब चार गेंद चार रन की दरकार थी. तीसरी गेंद पर कोई रन नहीं बना. चौथी गेंद पर छक्का जमाकर मोरिस ने राजस्थान को जीत दिला दी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button