राष्ट्रीय

मोस्ट वांटेड आतंकी सोहन डी. शिरा एनकाउंटर में मारा गया

मेघालय: मेघायल के उग्रवादी संगठन गारो नेशनल लिबरेशन आर्मी के कमांडर इन चीफ सोहन डी.शिरा को पुलिस ने मार गिराया है. मेघालय के मोस्ट वांटेड आंतकी सोहन डी शिरा को शनिवार को सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में मार गिराया. गारो नेशनल लिबरेश आर्मी यानी जीएनएलए का कमांडर इन चीफ मेघालय के गारो हिल्स में काफी सक्रिय था. बता दें कि यहां 27 फरवरी को मतदान होना है.

सूत्रों ने एनडीटीवी को बताया कि गारो हिल्स पुलिस और मेघालय के स्पेशल फोर्स -10 कमांडो की संयुक्त टीम के साथ आतंकी सोहन की दोबू अ चकपेक में सुबह 11:50 बजे मुठेभेड़ हुई. इसी मुठभेड़ में उग्रवादी संगठन का सरगना सोहन मारा गया.

पुलिस ने कहा कि पिछले रविवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार जोनाथन एन संगमा की हत्या के बाद सुरक्षा बलों ने राज्य की राजधानी शिलांग से 320 किलोमीटर दूर गारो हिल्स में आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया था. मेघालय के स्पेशल फोर्स के 10 कमांडो और गारो हिल्स पुलिस के संयुक्त अभियान के तहत ही यह मारा गया.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि डोबू इलाके में कुछ जीएनएलए उग्रवादियों की संभावित मौजूदगी की खुफिया खबर मिलने के बाद उग्रवाद निरोधक बल को हरकत में आने को कहा गया है. आज ग्यारह बजे डोबू के समीप अचाकपेक गांव में मुठभेड़ हुई और सोहन मारा गया. बता दें कि संगमा और उनके सुरक्षा अधिकारी और दो पार्टी वर्कर की मौत पूर्वी गारो हिल्स में धमाके में मौत उस वक्त हो गई थी, जब उनका काफिला कैंपने कर वापस आ रहा था.

बताया जा रहा है कि सोहन डी. शिरा पिछले साल दिसंबर में बांग्लादेश से वापस भारत आया था. जीएनएलए प्रमुख सोहन डी शीरा के ऊपर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित था.

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *