बेटी के पेट में था दर्द, मां ने ‘काला जादू’ कर ले ली जान

यह मामला पूर्वी मुंबई का है, हत्या शनिवार की रात लगभग 10 बजे हुई

बेटी के पेट में था दर्द, मां ने ‘काला जादू’ कर ले ली जान

काला जादू का एक डरावना परिणाम सामने आया है। मुंबई में एक मां और उसकी चाची पर आरोप है कि उन्होंने काला जादू करके 11 वर्षीय बेटी की जान ले ली। वह बच्ची कब्ज से परेशान थी, लेकिन उसे डॉक्टर से दिखाने के बजाय मां और उसकी चाची अनुष्ठान करने लगीं। इस दौरान बच्ची के पिता और उसका किशोर भाई भी पूरी घटना को खड़े देखते रहे।

यह मामला पूर्वी मुंबई का है। हत्या शनिवार की रात लगभग 10 बजे हुई। बच्ची सानिया बेकरे का शरीर जीवदानी प्रसाद बिल्डिंग मानवेलपाड़ा विवार में ही पड़ा रहा। रविवार दोपहर बच्ची के मामा संजय मोरे उसे संजीवनी हॉस्पिटल लेकर गए जहां डॉक्टर्स ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।

विरार पुलिस ने बच्ची की मां मीनाक्षी, प्राइवेट नौकरी करने वाले उसके पिता अंबाजी, बच्ची की चाची माधुरी शिंदे को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है। उनके खिलाफ आईपीसी की 302 और 202 धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस ने बताया कि बच्ची के पेट और गुप्तांग समेत शरीर के कई हिस्सों में गंभीर घाव मिले हैं। मीनाक्षी का दावा है कि उसके ऊपर भूत चढ़ा था जो सानिया के सीने पर चढ़ा और नाचने लगा। अनुष्ठान के समय माधुरी ने सानिया के पैरों को जोर से पकड़ा था।

पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि महिला की चीखें बेकरे के फ्लैट से 14 दिसंबर से सुनाई दे रही थीं। एक पड़ोसी गोसिया सलमानी ने बताया कि उसने चुपचाप झांका तो देखा कि मीनाक्षी के पूरे शरीर पर हल्दी लगी है। गोसिया ने पुलिस को बताया कि हल्दी बेकरे के घर के बाहर पड़ी मिलती थी। इससे उन लोगों को काला जादू किए जाने का शक होता था। वहां रहने वाले लोगों का आरोप है कि मीनाक्षी काला जादू करती थी।

17 दिसंबर को मीनाक्षी ने उसके भाई संजय को फोन करके कहा कि सानिया कुछ दिनों से पेट दर्द की शिकायत कर रही है। वह विरार पहुंचे तो उन्होंने सानिया का लेटा हुआ पाया। वह उसे लेकर अस्पताल गए जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सानिया के 14 साल के भाई यश ने बताया कि उसकी मां और चाची सानिया को दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए कोई अनुष्ठान कर रही थीं। उसने बताया कि उसके पिता उस समय फ्लैट में ही मौजूद थे। वह कोई अनुष्ठान नहीं कर रहे थे लेकिन उन्होंने उसकी मां को भी नहीं रोका। सके माता-पिता ने उसे चुप रहने की धमकी दी थी।

पुलिस ने बताया कि यह घटना बहुत अमानवीय है। जांच के बाद पुलिस जादू-टोना के बहाने लोगों का आर्थिक और शारीरिक शोषण करने की धाराएं आरोपितों पर लगाएगी।

advt
Back to top button