बेटा हुआ ISIS में शामिल, मां बोली- हमें भारत से प्यार और हम यहीं रहेंगे

केरल से लगातार युवाओं के गायब होने और आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएसएस) से जुड़ने का एक और मामला सामने आया है। मल्लापुरम से लापता हुए 24 साल के युवक की आईएसएस में शामिल की पुष्टि टेलिग्राम पर संदेश आने के बाद हुई है। टेलिग्राम के जरिए नजीब (बदला हुआ नाम) ने कहा कि वो जहां पहुंचना चाहता था, वहां आ गया है। उसने भारत में रह रहे मां-बाप को भी हिदायत दी कि वे वहां से निकल लें।

नजीब के जवाब में मां ने कहा कि वे भारत में ही रहना चाहते हैं क्योंकि वे इस देश को प्यार करते हैं। हम भारतीय है और हम इसे प्यार करते हैं। ये जवाब देने के बाद घर वालों ने मैसेज के बारे में पुलिस को जानकारी दे दी है। नजीब ने बताया कि वो वहां ‘हिजरा’ कर रहा है और मां-बाप को भी वहां पहुंच कर इसे करना चाहिए।

इस्लामिक धार्मिक विश्वास के हिसाब से हिजरा सबसे पहले पैगंबर मोहम्मद की ओर से मक्का से मदीना तक किया गया था। दरअसल, नजीब 16 सितंबर से लापता था। घर वालों ने गायब होने की शिकायत पुलिस को दी, पर उसका पता नहीं चल पाया।

कुछ दिन बाद घर वालों को एक विदेशी नंबर से कॉल आया और टेलिग्राम एप्लिकेशन को फोन में इंस्टाल करने के लिए कहा गया। इसके बाद 26 अगस्त को मैसेज आया, जिसमें एक शख्स ने खुद को नजीब बताया और कहा कि उसे ढूंढने की कोशिश न की जाए और न ही पुलिस को इसकी जानकारी दी जाए।

हालांकि, मां ने सुसाइड देते हुए कहा कि वो देश वापस आ जाए। नजीब ने कहा कि आपको भी हिजरा करना चाहिए, मैंने मेरी मंजिल पा ली है, इससे बेहतर जगह मेरे लिए और कही नहीं है। नजीब ने माता-पिता को ये भी हिदायत दी कि इस मैसेज की पुलिस को जानकारी न दे नहीं तो उनके लिए परेशानियां बढ़ सकती हैं।

Back to top button