सांसद रमेश बैस ने रायपुर रेलवे स्टेशन पर फहराया 100 फीट ऊंचा तिरंगा

देश के 75 रेलवे स्टेशनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए सूचिबद्ध

रायपुर: भारतीय रेलवे की ओर से देश के 75 रेलवे स्टेशनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए सूचिबद्ध किया है| जिसमें राज्य के दो रेल्वे स्टेशन रायपुर और बिलासपुर शामिल है|

26 जनवरी को बिलासपुर में तिरंगा फहराया गया। रायपुर के रेलवे स्टेशन पर आज सांसद रमेश बैस के ने 100 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया, जिसके बाद रेल्वे पुलिस फ़ोर्स के जवानों ने तिरंगे को सलामी दी।

तिरंगे की निगरानी आरपीएफ सीसीटीवी कैमरे से रखेगी, ताकि रास्ट्रीय ध्वज के सम्मान में किसी भी तरह की चुक न हो| रायपुर स्टेशन के पहले राजधानी में दो अन्य जगहों पर भी पहले तिरंगा फहराया जा चुका है। मरीन ड्राइव में 205 फीट ऊंचा तिरंगा लगा है। रायपुर एयरपोर्ट में भी 100 फिट ऊंचा तिरंगा लगाया गया है।

ध्वजारोहण के दौरान विधायक कुलदीप जुनेजा के साथ ही डीआरएम कौशल किशोर और रेलवे के बाकी स्टाफ शामिल थे। ध्वजारोहण के बाद सांसद रमेश बैस ने कहा कि तिरंगा हमारे आन, बान, शान का प्रतीक है। हर कोई इस झंडे के लिए आहुति देने को तैयार रहता है। इस समय हम झंडा फहरा रहे है जब देश में एक विषम परिस्थिति है। हमारे 44 जवान शहीद हुए हैं।

कोई भी जवान तिरंगे की आन बन शान को झुकने नहीं देता। तिरंगा हमारी देश की शान है और इस शान को रायपुर स्टेशन पर फहरा रहे हैं। इस झंडे को देखकर आम लोगों में राष्ट्रीयता की भावना जगेगी। देश के लिए मरने मिटने की प्रेरणा मिलेगी। पुलवामा में फिर आतंकियों से मुठभेड़ में 4 जवानों की शहादत पर सांसद रमेश बैस ने दु:ख जताते हुए कहा कि हमारे 40 जवानों ने शहादत दी है।

उसके बाद भी पाकिस्तान चेता नहीं है लगातार सीमा पार से फायरिंग कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी और सभी पार्टी के नेताओं द्वारा विचार विमर्श कर सभी पहलुओं को देखकर निर्णय लेने तैयार है।

उन्होंने कहा कि खुशी है कि इस घटना के बाद विश्व के लगभग 52 देश भारत को समर्थन दे रहे हैं। निश्चित ही सरकार इसको लेकर कोई न कोई कदम उठाएंगे। सरकार देश हित के धीरे धीरे कदम उठा रही है।

Back to top button