छत्तीसगढ़

सांसद ने शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं से नागरिकों को लाभ दिलाने पर दिया जोर

सांसद चंदूलाल साहू की अध्यक्षता में ’’दिशा’’ की बैठक संपन्न

– मनोज मिश्रा

महासमुंद: सांसद एवं जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति (दिशा) के अध्यक्ष चंदूलाल साहू के अध्यक्षता में आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित की गई। सांसद साहू ने विभिन्न विभागों के जनकल्याणकारी योजनाओं एवं कार्यो की विस्तारपूर्वक समीक्षा की। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से कहा कि शासकीय योजनाओं का सही तरीके से क्रियान्वयन हो, इसका ध्यान रखा जाए। प्रशासनिक अधिकारियों का दायित्व है कि वे योजनाओं का क्रियान्वयन मैदानी स्तर तक भलिभाति करें। जिससे कि आम नागरिकों को इसका लाभ अधिक से अधिक मिल सके।

बैठक में महासमुंद विधायक विनोद चन्द्राकर, खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव, जनपद पंचायत महासमुंद के अध्यक्ष धरमदास मंहिलांग, महासमुंद नगर पालिका अध्यक्ष पवन पटेल सहित समिति के सदस्यगण कलेक्टर सुनील कुमार जैन, वनमंडलाधिकारी अलोक तिवारी, अपर कलेक्टर मोहम्मद शरीफ खान सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने विगत विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक के पालन प्रतिवेदन के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

बैठक में विभागीय अधिकारियों ने बताया कि महात्मा गंाधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी योजना के तहत जिले में दो लाख 7 हजार 930 हितग्राहियों को मनरेगा जॉब कार्ड उपलब्ध कराया गया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वित्तीय वर्ष 2018-19 में जिले में 2 लाख 60 हजार 65 आवास निर्माण कार्य का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन के तहत जिले के चयनित कलस्टर क्षेत्र बसना विकासखंड के भंवरपुर के अंतर्गत 14 ग्राम पंचायतों के 33 गंावों के लिए कार्ययोजना तैयार किया गया है, जिसमें विभिन्न विभागों के अभिसरण से कौशल उन्नयन, कृषि प्रसंस्करण, डिजीटल साक्षरता, शुध्द पेयजल व्यवस्था, स्वच्छता, तरल एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन, गंावों में नाली व गली निर्माण, स्ट्रीट लाईट, स्वास्थ्य, शिक्षा, गंाव के बीच सड़क संपर्क, नागरिक केन्द्रित सेवाएं/सीएससी की स्थापना, सार्वजनिक परिवहन, एलपीजी गैस कनेक्शन, आजीविका, सामाजिक सुविधाएं, आंगनबाड़ी केन्द्रों का उन्नयन, सिंचाई विकास एवं सबके लिए आवास संबंधित अनेक कार्य कराएं जा रहे है।

छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के सौभाग्य योजना (प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर) कार्यक्रम के तहत जिले के एक हजार 112 गंाव में 8 हजार 856 अविद्युतीकृत घरों में विद्युतीकृत का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरफ वर्ष 2018 में 85 हजार 277 किसानों द्वारा एक लाख 50 हजार 662 हेक्टेयर रकबा का बीमा कराया गया है। इसी तरह प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना रबी के लिए 90 किसानों द्वारा 70.97 हेक्टेयर रकबा का बीमा कराया गया है।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा अपै्रल 2018 से जनवरी 2019 तक की स्थिति में 17 हजार 332 गर्भवती माताओं का पंजीयन, 15 हजार 174 संस्थागत प्रसव, 10 हजार 215 जननी सुरक्षा योजना, 3 हजार 524 नसबंदी, 12 हजार 819 टीकाकरण किया जा चुका है। महिला एवं बाल विकास विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, समाज कल्याण, खाद्य विभाग, आदिवासी विकास विभाग, उद्यानिकी, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना, लोक निर्माण विभाग, जिला खनिज न्यास सहित अन्य विभाग के योजनाओं की समीक्षा की गई।

Tags
Back to top button